टोक्यो: जापान के इतिहास में पहली बार टोक्यो का एक विश्वविद्यालय ट्रांसजेंडर विद्यार्थियों को प्रवेश देगा। यह प्रक्रिया 2020 से शुरू होगी। विश्वविद्यालय के एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी एफे को बताया कि ओचनोमिजू विश्वविद्यालय पहला जापानी शैक्षणिक संस्थान है, जो एलजीबीटीक्यूआई (समलैंगिक, उभयलिंगी, ट्रांससेक्सुअल और इंटरसेक्स) समुदाय के सदस्यों के लिए पंजीकरण की अनुमति देगा।

ओचनोमिजू जापान में महिलाओं के लिए उच्च शिक्षा प्रदान करने वाला पहला संस्थान है। यह संस्थान काफी पुराना है और  इसकी स्थापना 1875 में हुई थी। हालांकि जापानी कानून एलजीबीटीआई समुदाय को कोई मान्यता नहीं देता है, लेकिन शैक्षिक संस्थानों और स्थानीय प्रशासन ने अपनी पहल से समुदाय के अधिकारों को बदलना शुरू कर दिया है। कई हाईस्कूलों ने उभयलिंगी यूनिफार्म या इन छात्रों के लिए लचीले ड्रेस कोड की शुरुआत की है। जापान में इसे अपने तरह की नई शुरुआत माना जा रहा है।