अब सऊदी अरब में खत्म हो रहा है बहुत धूमधाम से शादियों का चलन!

अब सऊदी अरब में खत्म हो रहा है बहुत धूमधाम से शादियों का चलन!

रियाद। सऊदी अरब में शादियां बहुत धूमधाम से करने का चलन रहा है लेकिन अब चीजें बदल रही हैं और इसका असर शादियों पर भी पड़ रहा है। वहां अब बड़ी नहीं, बल्कि छोटी शादियां होने लगी हैं। सऊदी अरब में बहुत से लोगों के लिए शादियां अपनी रईसी दिखाने का मौका होती हैं। कई लोग इसी से आपकी हैसियत का अंदाजा लगाते हैं कि आपकी शादी में कितने लोग आए। इस चक्कर में बड़ा खर्चा होता है, जो परिवारों को अकेले दम पर उठाना होता है। शादी के लिए बड़े बड़े हॉल किराए पर लेने से लेकर लजीज खानों और खातिरदारी का इंतजाम करना पड़ता है।

यह भी पढ़ें :  भारत दुनिया पॉलिटिक्स उत्तर प्रदेश मनोरंजन खेल लाइफस्टाइल गैजेट्स ऐस्ट्रो शिक्षा बजट 2019 कुंभ 2019 English ब्राजील में बांध ढहने से मची तबाही, 50 की मौत, 300 से ज्यादा लोग लापता

अब ऐसे लोगों की तादाद बढ़ रही है जो अपने घर पर भी शादी की पार्टियां आयोजित कर रहे हैं। पारिवारिक परंपराओं और सामाजिक दबाव से बेपरवाह होकर बचत करने को प्राथमिकता दे रहे हैं। हाल के वर्षों में तेल के घटते दामों के कारण सऊदी अरब की आमदनी कम हुई है और सरकार खर्च घटाने वाले कदमों पर जोर दे रही है। हालांकि सऊदी अरब में सबसे ज्यादा अमीर लोग रहते हैं लेकिन अब चीजें बदल रही हैं। युवाओं में बढ़ती बेरोजगारी के बीच सरकार ने कई तरह की सब्सिडियां खत्म करने के साथ साथ नए टैक्स भी लगाए हैं, जिससे लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी पर असर पडऩे लगा है। ज्यादा पुरानी बात नहीं है जब सऊदी अरब में सब कुछ टैक्स फ्री हुआ करता था। सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान देश की अर्थव्यवस्था को विविध बना कर तेल पर उसकी निर्भरता खत्म करना चाहते हैं और इसके लिए उन्होंने कई बड़ी आर्थिक बदलाव किए हैं। इसी का असर शादियों पर भी दिख रहा है।

सऊदी अरब में शादियों पर हर साल दो अरब रियाल यानी 53.3 करोड़ डालर खर्च होते हैं। पूरी अरब दुनिया में कहीं भी लोग शादियों पर इतना खर्च नहीं करते। पिछले एक साल में सऊदी अरब में शादियों पर होने वाले खर्च में 25 प्रतिशत की गिरावट आई है। सऊदी अरब में एक सामान्य शादी पर लगभग 80 हजार रियाल यानी 15 लाख रुपये का खर्च आता है। वैसे शादियों में खर्च घटाने का विचार सब लोगों को पसंद नहीं आ रहा है। बहुत से लोग अब भी परिवार और समाज के दबाव के आगे झुक रहे हैं और बड़ा खर्चा कर रहे हैं लेकिन बदलाव की शुरुआत हो चुकी है।

सऊदी शादी यानी बेशुमार ग्लैमर। यही वजह है कि सऊदी अरब में शादियों से जुड़ी चीजों का कारोबार अरबों डॉलर का है। शादी में महंगी सजावट, १० टियर से भी ज्यादा ऊंचे केक, खाने-पीने की अनगिनत चीजें, एक से बढ़ कर एक ड्रेस, आम बात हैं। हर शादी पहले वाली से ज्यादा शानोशौकत वाली लगती है। शादी पर दूल्हा और दुल्हन की तरफ अलग-अलग इवेंट आयोजित होते हैं। बारात में संगीत बजाने वाले, डांसर, नौकर-चाकर की भीड़ होती है। शादी वाले दिन समारोह रात भर चलता है। नाच-गाना, खाना पीना, फोटो सेशन सब कुछ पुरुष और महिलाओं के लिए अलग-अलग हिस्सों में चलता रहता है। कई बार तो पुरुषों वाले समारोह का लाइव टेलीकास्ट महिलाओं वाले हॉल या कमरों में बड़े बड़े मॉनीटर पर किया जाता है।