नया नियम: सऊदी अरब में पत्नी को जानकारी दिए बिना तलाक नहीं

नया नियम: सऊदी अरब में पत्नी को जानकारी दिए बिना तलाक नहीं

सऊदी अरब में महिलाओं की स्थिति सुधारने की दिशा में हाल के दिनों में कई कदम उठाए गए हैं। इस दिशा में अब एक नया कदम तलाक को लेकर उठाया गया है। अभी तक कई महिलाओं को उनके तलाक के बारे में जानकारी नहीं हो पाती थी मगर ऐसा नहीं हो पाएगा। इसके लिए अब एक नया नियम बनाया गया है।

यह भी पढ़ें : थाईलैंड में पाबुक तूफान की दस्तक, लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने की कोशिशें जारी

इस नियम के तहत सऊदी अरब की अदालतों के लिए ये जरूरी बना दिया गया है कि वे महिलाओं को उनके तलाक के बारे में संदेश भेजकर जानकारी देंगी। इस बाबत महिला वकीलों का कहना है कि इसके जरिए ऐसे मामलों पर रोक लगेगी जहां पुरुष अपनी पत्नियों को जानकारी दिए बिना ही शादी तोड़ देते थे। सऊदी अरब में ऐसे मामलों को गुप्त तलाके के तौर पर जाना जाता रहा है।

नए नियम के दिशा निर्देश तय करेंगे कि महिलाओं को उनकी वैवाहिक स्थिति के बारे में पूरी जानकारी हो। इसके जरिए महिलाएं भरण पोषण भत्ते जैसे अपने अधिकारों का संरक्षण भी कर सकेंगी। महिलाओं को अधिकार देने की दिशा में प्रयास करते हुए पिछले साल महिलाओं के ड्राइविंग पर लगी पाबंदी को हटा लिया गया था।

तलाक के नए नियम के बारे सऊदी अरब की वकील निसरीन अल गामदी ने बताया कि नए प्रावधान तय करेंगे कि महिलाओं को तलाक देने पर उनके अधिकार संरक्षित रहें। एक अन्य वकील सामिया अल हिंदी ने बताया कि कई महिलाओं ने अदालतों में इस बात को लेकर अपील की थी कि उन्हें बिना उनकी जानकारी के तलाक दे दिया गया। महिलाओं के अधिकारों को लेकर उठाया गया यह नया कदम सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस की आर्थिक और सामाजिक सुधार प्रक्रिया का हिस्सा बताया जा रहा है। अभी तक इस दिशा में कई कदम उठाए जा चुके हैं।