ढाका: बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया के परिवार के लिए मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। कोर्ट ने तारिक और उनके साथ 18 अन्य लोगों को 2004 के ग्रेनेड हमला मामले में दोषी पाया है। जिसके बाद तारिक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है।
बता दे कि खालिदा जिया पर भ्रष्टाचार के पहले से ही कई आरोप है। इस समय वे भ्रष्टाचार के ही एक मामले में जेल के अंदर सजा भी काट रही है।

गौरतलब है कि बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना पर 2004 में ग्रेनेड से हमला किया गया था। इस हमले में वह बाल –बाल बच गई थी। लेकिन चोट लगने के कारण उनकी सुनने की क्षमता क्षीण हो गई थी। ये हादसा इतना बड़ा था कि 24 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि 500 से अधिक लोग बुरी तरह से जख्मी हो गए थे।

प्रधानमंत्री हसीना ने इस मामले की सुनवाई के दौरान ही ये आरोप लगाया था कि अवामी लीग की 2004 की रैली में ग्रेनेड से हमला खालिदा जिया ने कराया है। खालिदा जिया भ्रष्टाचार के मामले में जेल के अंदर सजा काट रही हैं। वहीं उनका बेटा रहमान ब्रिटेन में राजनीतिक शरण लिए हुए है।

ये भी पढ़ें…ढाका: शेख हसीना ने रोहिंग्या कैंपों का दौरा किया