World

आज अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस है। इस दिन को मनाने के पीछे मकसद चाय बागान से लेकर चाय की कंपनियों तक में काम करने वाले श्रमिकों की स्थिति की ओर ध्यान आकर्षित करना है।

नई दिल्‍ली :अफ्रीकी देश घाना की राजधानी अक्रा के घाना विश्वविद्यालय में लगी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा छात्र-छात्राओं और फैकल्टी के विरोध के बाद हटा दी गई है। घाना की राजधानी अक्रा स्थित विश्वविद्यालय में दो साल पहले महात्मा गांधी की प्रतिमा लगाई गई थी, जिसके बाद प्रतिमा हटाने को लेकर प्रदर्शन शुरू हो गए …

जयपुर:निर्धारित समय से पूर्व जन्में बच्चों को अगर कैफीन की निश्चित मात्रा प्रतिदिन दी जाए तो उनके दिमाग का विकास और सांस लेने में सहायता मिलती है। एक शोध में यह जानकारी दी गई है और इन शोधकर्ताओं में एक वैज्ञानिक भारतीय मूल का है। कनाडा के केलगेरी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने बताया कि 29 …

जयपुर: चॉकलेट की नदियां बहते  कभी देखा या सुना है,नही तो जान ले  जर्मनी में चॉकलेट की नदियां बह रही है। दरअसल इसे एक दुर्घटना कहा जा सकता है। जर्मनी में एक चॉकलेट फैक्ट्री में सुबह 8 बजे के करीब लिक्विड चॉकलेट लीक होकर बाहर आ गया औऱ सड़कों पर बहने लगा। फैक्ट्री के अंदर रखा …

कनाडा ने खालिस्तानी आतंकियों को देश के लिए खतरा बताते हुए पहली बार उनकी सूची बनाई है। इस सूची में सुन्नी इस्लामिक चरमपंथी, दक्षिणपंथी चरमपंथ और शिया चरमपंथ को भी शामिल किया गया है। सिख समूह बब्बर खालसा इंटरनेशनल और इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन को पहले से ही देश की निगरानी सूची में हैं।

बगदाद। इराक के मोसुल शहर ने कुख्यात आईएस यानी इस्लामिक स्टेट के एकछत्र राज में तीन साल बिताए हैं। इस दौरान शराब पीने पर कड़ी पाबंदी थी। जो कोई पीने की हिमाकत करता था उसे सार्वजनिक रूप से कोड़े मारे जाते थे और कई बार तो इससे भी कहीं बुरी सजा दी जाती थी। अब …

पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में अमेरिकी सीनेट ने गुरुवार को एक रिसॉल्यूशन पास किया।रिसॉल्यूशन में कहा गया है कि पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के लिए सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान जिम्मेदार हैं।

रूस के पूर्व पुलिसकर्मी मिखाइल पॉपकोव को देश का सबसे खतरनाक सीरियल माना जाता है। पॉपकोव इतना खतरनाक रहा है कि उसे 78 लोगों की हत्या का दोषी पाया गया है। खास तौर पर पॉपकोव ने महिलाओं को निशाना बनाया। उसने जितने लोगों की हत्या की उनमें 56 महिलाएं शामिल हैं। इस मामले में उन्हें …

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज 10 से 14 दिसंबर तक म्यांमार के दौरे पर जायेंगे। जहां वह अपने समक्ष यू विन मिंत तथा स्टेट काउंसेलर दाव आंग सान सू की से चर्चा करेंगे। राष्ट्रपति के म्यांमा दौरे के दौरान कई समझौते होने की संभावना है।

आज पूरा विश्व 10 दिसंबर को ‘अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस’ के तौर पर मना रहा है। यह दिन बेहद ख़ास है। वैसे बता दें कि 10 दिसंबर न सिर्फ मानवाधिकारों की दृष्टि से खास है बल्कि इस दिन और भी कई खास मुद्दे हुए।