देश के विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट पर्व के रूप में मनाया जाता है मकर संक्रांति: योगी

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश के विभिन्न क्षेत्रों में संक्रांति को विशिष्ट पर्व के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष मकर संक्रांति इसलिए भी अत्यन्त महत्वपूर्ण है क्योंकि इस पर्व से ही विश्व का विशालतम आध्यात्मिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक समागम प्रयागराज कुम्भ-2019 प्रारम्भ हो रहा है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मकर संक्रांति और खिचड़ी पर्व पर प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं। आज यहां जारी एक बधाई संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के विभिन्न क्षेत्रों में संक्रांति को विशिष्ट पर्व के रूप में मनाया जाता है। यह सभी पर्व हमारे देश की समृद्ध विरासत एवं सांस्कृतिक एकता के प्रतीक है।

इस वर्ष मकर संक्रांति इसलिए भी अत्यन्त महत्वपूर्ण है क्योंकि इस पर्व से ही विश्व का विशालतम आध्यात्मिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक समागम प्रयागराज कुम्भ-2019 प्रारम्भ हो रहा है।

उल्लेखनीय है कि सम्पूर्ण भारत में मकर संक्रांति विभिन्न रूपों में मनायी जाती है। उत्तर प्रदेश और बिहार सहित विभिन्न राज्यों में इसे खिचड़ी पर्व के रूप में मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन सूर्यदेव मकर राशि में प्रवेश करते हैं और उत्तरायण हो जाते हैं। उत्तरायण को सकारात्मकता का प्रतीक माना गया है।

मकर संक्रांति पर सूर्यदेव की राशि में हुआ परिवर्तन अंधकार से प्रकाश की ओर अग्रसर होने का द्योतक है। यह सर्वविदित है कि प्रकाश अधिक होने से प्राणियों की चेतना एवं कार्यशक्ति में वृद्धि होती है। इसलिए पूरे भारतवर्ष में इस अवसर पर लोग विविध रूपों में सूर्यदेव की उपासना करते हैं।

ये भी पढ़ें…योगी आदित्यनाथ के असर व गठबंधन के बल की परीक्षा