नालियों मे लगाई जा रही श्रीराम लिखी ईटों का VHP ने किया विरोध, काम बंद

वहीं नगर निगम के जेई महेश चंद्र शुक्ला पहले तो उस भट्टे पर कार्यवाई होनी जिसका ये ट्रेडमार्क है। आखिर कैसे ये ट्रेडमार्क पास हो गया। अभी तो नगर निगम मे कार्य चल रहा था। इसलिए विरोध के बाद कार्य को रूकवा दिया गया। लेकिन यही कार्य कहीं और चलता होता तो कैसे कार्य को रूकवा पाते।

शाहजहांपुर: यूपी के शाहजहांपुर में श्रीराम लिखी ईटों पर बवाल हो गया। यहां नगर निगम द्वारा बनवाई जा रही नालियों मे श्रीराम लिखी ईंटो का इस्तेमाल किया जा रहा है। आज जब विश्व हिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष की नजर उन ईंटो पर पङी तो उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने तत्काल इसकी सूचना नगर निगम को दी। विश्व हिंदू परिषद की शिकायत के बाद नालियों के निर्माण कार्य को रूकवा दिया गया है। वहीं नगर निगम ईंट भुट्टों को बंद कराने की बात कर रहा है।

ये भी पढ़ें— क्या सवर्णों को मिलेगा हारिजेंटल रिजर्वेशन?

मामला थाना सदर बाजार के स्टेशन रोड पर का मामला है। जहां नगर निगम द्वारा नालियाँ बनवाई जा रही थी। नालियों को बनवाने मे जिन ईटो का इस्तेमाल हो रहा था उन पर लिखा था श्रीराम। वही ईंटे नालियों मे लगाई जा रही थी। विश्व हिंदू परिषद के जिला अध्यक्ष राजेश अवस्थी ने बताया कि जब वह अपने घर से बाहर निकले तो नालिया बनते देखी। उन नालियों मे श्रीराम लिखी ईंटो को लगाया जा रहा था। श्रीराम सबके ह्रदय मे बसते है। ऐसे मे ये उनका अपमान करने जैसा है। वैसे भी इस वक्त राम मंदिर का विवाद चल रहा है। इसलिए उनकी मांग है कि नालियों का कार्य रूकवाया जाए और श्रीराम लगी ईटो को हटाया जाए। विश्व हिंदू परिषद के विरोध के बाद नगर निगम ने कार्य को रूकवा दिया है।

ये भी पढ़ें— आखिरकार आ ही गया पीएम मोदी के बायोपिक का फर्स्ट लुक पोस्टर, जानें इंट्रेस्टिंग बातें

वहीं नगर निगम के जेई महेश चंद्र शुक्ला पहले तो उस भट्टे पर कार्यवाई होनी जिसका ये ट्रेडमार्क है। आखिर कैसे ये ट्रेडमार्क पास हो गया। अभी तो नगर निगम मे कार्य चल रहा था। इसलिए विरोध के बाद कार्य को रूकवा दिया गया। लेकिन यही कार्य कहीं और चलता होता तो कैसे कार्य को रूकवा पाते।