Varanasi

भारत में क्रिकेट को लेकर लोगों में क्या दीवानगी रहती है, ये हर कोई जानता है। वाराणसी में भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। यहां के संपूर्णानंद संस्कृत यूनिवर्सिटी में क्रिकेट का एक खास मैच देखने को मिला, जिसमें बैट भी था। बॉल भी थी और खिलाड़ी भी। कुछ अलग था तो खिलाड़ियों की वेशभूषा और कमेंट्री का अनोखा अंदाज।

आशुतोष सिंह वाराणसी: काशी में आयोजित 15वां प्रवासी भारतीय सम्मेलन अपनी गहरी छाप छोड़ गया है। दुनिया के कोने-कोने से लोग वाराणसी पहुंचे और अपनी माटी, अपने लोगों के बीच आकर निहाल हो उठे। आर्थिक, राजनीतिक सहित कई मसलों पर गुफ्तगू हुई। कार्यक्रम के जरिए वैश्विक संदेश देने की कोशिश हुई, जिसमें भारत के विश्वगुरु …

प्रियंका गांधी के एक्टिव पॉलिटिक्स में आते ही कांग्रेसी जोश में भर गए हैं। पूर्वांचल के अलग-अलग हिस्सों में कांग्रेसी सड़क पर उतरे और अपने अंदाज में प्रियंका गांधी का इस्तकबाल कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कांग्रेसी ढ़ोल नगाड़े की थाप पर झूमते नजर आए।

बनारस की पहचान सिर्फ घाटों और मंदिरों से नहीं बल्कि यहां की साड़ी से भी है। बनारसी साड़ी का डंका पूरी दुनिया में बजता है। लेकिन पिछले कुछ सालों से रंग-बिरंगी साड़ी बनाने वाले बुनकर खुद बदरंग है। बुनकरों की बदहाली दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोशिश कर रहे हैं।

प्रवासी भारतीय सम्मेलन के दूसरे बड़ा लालपुर स्थित ट्रेड फैसेलिटी सेंटर के बाहर एक अजब नजारा दिखा। अपने बेटे के पाने की हसरत लिए एक बूढ़ी मां पहुंच गई। हाथों में तख्ती लिए ये वृद्धा पीएम नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की गुहार लगा रही थी।

उत्तर प्रदेश के मीरजापुर जिले के मंडलीय अस्पताल में आकस्मिक एवं गहन चिकित्सक सेवा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कार्डियक केयर यूनिट का लोकार्पण केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने किया। गंभीर मरीजों को अब आसानी से इलाज की सुविधा मिलेगी।

15 वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन का आगाज हो चुका है। पहले दिन सीएम योगी आदित्यनाथ और विदेश मंत्री ने प्रवासी भारतियों को संबोधित किया। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन में कहा कि मैं आभारी हूं पीएम नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का जिन्होंने आयोजन देश के हृदय स्थल उत्त्तर प्रदेश के काशी मे करने का अवसर दिया है। आयोजन महत्वपूर्ण है।

उत्तर प्रदेश के मऊ जनपद के स्वास्थय महकमे के लिए टीबी मरीजों की बढती संख्या स्वास्थय महकमें के लिए चुनौती से कम नहीं है। जनपद में 4772 मरीजों की जाँच किया गया जिसमें से 278 टीबी के मरीजों को चिन्हित किया गया है। जिनके इलाज के लिए राजकीय टी.बी क्लीनिक पर टीबी के मरीजों के लिए निशुल्क जाँच और दवाए उपलब्ध है।जहाँ टीबी की बीमारी लाइलाज हुआ करती थी वहीं अब इसकी जाँच कर दवाए को नियमित सेवन से मरीज ठीक हो जा रहे है।

समाजवादी सामाजिक न्याय बी पी मंडल पदयात्रा जनपद मऊ मुख्यालय पहुंची। इस पदयात्रा का सपाइयों द्वारा जोरदार स्वागत किया गया। साथ ही पद यात्रियों का फूल माला पहनाकर उत्साह वर्धन किया गया।

कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी, पुरानी पेंशन बहाली मंच के तत्वाधान में राज्य कर्मचारीयों और शिक्षकों ने अपनी मांग को लेकर कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन किया। इसके साथ ही 28 जनवरी को मशाल जुलूस निकाल कर 06 फरवरी से 12 फरवरी तक पूर्ण हड़ताल करेंगे।