गंगा में डूबते दो भाई को बचाने को नानी और मौसी ने लगा दी छलांग

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के चुनार कोतवाली के अदलपुरा शीतला धाम घाट पर दो बच्चे डूब गए। गोताखोरों की मदद से पुलिस बच्चों की तलाश में जुट गयी, लेकिन अभी तक दोनों बच्चे नहीं मिल पाए हैं। सूचना मिलने के बाद घटनास्थल पर स्थानीय तहसीलदार भी पहुंचे, शाम तक बच्चों की तलाश जारी थी, लेकिन वह मिले नहीं थे।

गंगा में डूबते दो भाई को बचाने को नानी और मौसी ने लगा दी छलांग

मिर्जापुर: उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के चुनार कोतवाली के अदलपुरा शीतला धाम घाट पर दो बच्चे डूब गए। गोताखोरों की मदद से पुलिस बच्चों की तलाश में जुट गयी, लेकिन  तक दोनों बच्चे नहीं मिल पाए हैं। सूचना मिलने के बाद घटनास्थल पर स्थानीय तहसीलदार भी पहुंचे, शाम तक बच्चों की तलाश जारी थी, लेकिन वह मिले नहीं थे।

यह भी पढें…..मिर्ज़ापुर में बोले मोदी- पिछली सरकारों के कारण 300 करोड़ की योजना में लगे 3500 करोड़

प्राप्त जानकारी के अनुसार वाराणसी के महमूरगंज स्थित गुरुधाम कालोनी निवासी अनमोल वर्मा पुत्र अमित लाल वर्मा (12 वर्ष) उसका मौसेरा भाई शिवाजी नगर निवासी उज्जवल वर्मा पुत्र राजेश वर्मा (11 निवासी) अपने मामा कल्लू की लड़की के मुंडन संस्कार में शामिल होने चुनार आए थे। अनमोल अपनी बहन अन्नपूर्णा वर्मा के साथ व उज्जवल अपनी मां, मौसी, नानी, मामी के साथ चुनार कोतवाली के अदलपुरा में शीतला धाम मंदिर का दर्शन करने के लिए आये थे। इसी दौरान गंगा में नहाते समय दोनों डूब गए। स्थानीय लोगों ने चेताया भी की आगे पानी गहरा है, लेकिन दोनों बच्चे नहीं माने। एक के बाद एक दोनों गहरे पानी में चले गए। बच्चों को बचाने नानी और मौसी भी कूद गई।

यह भी पढें….पीएम मोदी का मिड-डे-मील आज वृंदावन में, परोसेंगे भी और खाएंगे भी

मौके पर मौजूद लोगों ने पानी में बांस फेक कर दोनों को बाहर निकाला।ग्रामीणों की सूचना पर सीओ चुनार संजय कुमार सिंह व कोतवाली प्रभारी राम नगीना यादव गोताखोर शिव कुमार, बबई, राकेश आदि को लेकर घटना स्थल पर पहुंचे। वहां पहले महाजाल और कटिया डालकर गोताखोरों की मदद से खोजने की कोशिश की गयी पर सफलता नहीं मिली। घटनास्थल पर तहसीलदार चुनार ओपी पांडेय ने पहुंच कर घटना का जायजा लिया। हालांकि देर शाम तक बच्चों का कोई पता नही चल पाया है, उनकी खोजबीन जारी है।