लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रदेश की सरकार की तरफ से आयोजित तीन दिवसीय ‘वन डिस्ट्रिक, वन प्रोडक्ट’ (ओडीओपी) समिट का शुभारंभ किया। इस मौके पर उन्होंने 75 जिलों के उत्पादों की प्रदर्शनी देखी और बटन दबाकर व्यापारियों को 1,006 करोड़ रुपये का ऋण दिया।

यह भी पढ़ें: ODOP: राज्यपाल ने राष्ट्रपति को दी ‘एक जनपद एक उत्पाद’ की पहली कॉपी

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में ‘वन डिस्ट्रिक, वन प्रोडक्ट’ समिट के दौरान ही कानपुर के व्यापारी अतुल शर्मा को लेदर शूज के बिजनेस के लिए 35 लाख रुपये ऋण मिला। लखनऊ के मोहित वर्मा को चिकनकारी के लिए 10 लाख रुपये का ऋण मिला।

सरकार ने हर साल एक लाख लोगों को ओडीओपी योजना से जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश पहला ऐसा प्रदेश है, जो ओडीओपी के माध्यम से लोगों को उनके घर में ही रोजगार उपलब्ध कराने के लिए परंपरागत कुटीर उद्योगों को बढ़ावा दे रहा है।

प्रदेश में इस समय 8,900 करोड़ रुपये के उत्पाद का निर्यात होता है, जिसे बढ़ाकर दो लाख करोड़ रुपये करने का लक्ष्य रखा गया है।

–आईएएनएस