रामपुर: योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में एक सिख चेहरे को भी जगह मिली है। इनका नाम है बलदेव सिंह औलख। बलदेव किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं। वो रामपुर जिले की बिलासपुर विधानसभा सीट से पहली बार चुनाव मैदान में उतरे और अपने प्रतिद्वंद्वी को 22 हजार वोटों से अधिक अंतर से हराया।

राजनीतिक सफर :
बलदेव सिंह औलख के राजनीतिक सफर की शुरुआत उत्तराखंड के कुमाऊं यूनिवर्सिटी से हुई। वह इसी यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान छात्र संघ के सचिव चुने गए। साल 1998 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता मुख्तार अब्बास नकवी के संपर्क में आए और बीजेपी में शामिल हो गए। वह दो बार रामपुर से बीजेपी के जिला अध्यक्ष चुने गए। साथ ही दो बार जिला पंचायत सदस्य भी रहे।

पिता का नाम : दलविन्दर सिंह औलख
माता का नाम : सुरजीत कौर
परिवार : बलदेव सिंह औलख, सर्वजीत कौर (बहन), सुखदेव सिंह औलख, कुलवंत सिंह औलख, सतेंद्र सिंह औलख, परमजीत कौर (बहन), राजेंद्र सिंह औलख ।
जन्म तिथि : 10-6-1964

शैक्षिक योग्यता : एमए पास
जन्म स्थान : ग्राम शिवनगर तहसील बिलासपुर, जिला रामपुर ।
पत्नी का नाम : रजविन्दर कौर औलख
पुत्री : सुखमन कौर औलख
पुत्र  : गुरकीरंथ सिंह औलख
शादी : 31 जनवरी 1990 को हुई ।