सीबीआई छापों को लेकर कल मोदी सरकार पर बरसेंगी बसपा सुप्रीमो मायावती

बसपा सुप्रीमों मायावती और सपा मुखिया अखिलेश यादव की साझा प्रेस कांफ्रेंस में कल मायावती मोदी सरकार पर जमकर हमला करेंगी। खनन प्रकरण को लेकर हालिया सीबीआई छापों का मुददा भी जोर शोर से उठाएंगी।

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा मुखिया अखिलेश यादव की साझा प्रेस कांफ्रेंस में कल मायावती मोदी सरकार पर जमकर हमला करेंगी। खनन प्रकरण को लेकर हालिया सीबीआई छापों का मुददा भी जोर शोर से उठाएंगी। इसके पहले वह एक बयान जारी कर बता चुकी हैं कि उन्होंने इस मुददे पर अखिलेश यादव से फोन पर बात कर उन्हें साम्प्रदायिक ताकतों से नहीं घबराने की बात कही थी और खुद के साथ घटित वाकये का भी जिक्र किया था।

मायाावती मोदी सरकार के काम काज और योगी सरकार की कानून व्यवस्था पर खुलकर हमला बोलेंगी। हालांकि खास तौर पर दोनों पार्टियों के मुखिया की यह प्रेस कांफ्रेंस सपा और बसपा के गठबंधन का एलान करने के लिए बुलाई गई हैं। सूत्रों के मुताबिक प्रेस कांफ्रेंस में लोकसभा चुनाव के लिए सीटों के बंटवारे का एलान नहीं होगा। सिर्फ गठबंधन की आधिकारिक घोषणा होगी।

ये भी पढ़ें…आइएएस बी.चंद्रकला के घर पड़ी सीबीआई की रेड! अखिलेश यादव भी घेरे में

रालोद के चौधरी अजीत सिंह ने भी साफ कहा है कि हम गठबंधन में शामिल हैं। पर अभी सीटों पर बात नहीं हुई है। सपा और बसपा तय करेंगी कि महागठबंधन में कांग्रेस रहेगी या नहीं।

सवर्ण आरक्षण को लेकर भी मायावती मुखर होंगी और मीडिया के समक्ष अपनी राय रखेंगी। साथ ही कार्यकर्ताओं को भाजपा से सतर्क रहने की ताकीद भी करेंगी। बीते दिनों दिल्ली में मायावती और अखिलेश के बीच हुई बैठक में सीटों के बंटवारे पर करीबन आम सहमति बन चुकी है। एक अन्य बैठक में सीटों के बंटवारे की तस्वीर पूरी तरह साफ हो जाएगी।

15 जनवरी को मायावती का जन्मदिन भी है। इस मौके पर उन्हें जनमदिन की बधाई देने अखिलेश समेत तमाम सपा नेता पहुंच सकते हैं। उसके बाद मायावती पार्टी पदाधिकारियों की बैठक कर चुनिंदा सीटों पर अपनी रणनीति का खुलासा कर सकती हैं और जनवरी के अंतिम सप्ताह तक कौन सी पार्टी किस सीट पर चुनाव लड़ेगी। इसका भी खुलासा हो सकता है।

ये भी पढ़ें…मायावती-अखिलेश में बनी बात, डेढ़ घंटे की बातचीत में तय हुआ सीटों का बंटवारा