पुलिस ने पकड़ा 4,500 साड़ियों से भरा ट्रक, रसीद पर लिखा है सपा मंत्री गायत्री प्रजापति का नाम

0
11

फतेहपुर: यूपी विधानसभा चुनाव-2017 को लेकर प्रदेश में जैसे ही आदर्श आचार संहिता लागू हुई है, प्रशासन भी चप्पे-चप्पे पर चौकसी बरतने में जुटा है। इसी के तहत बुधवार (11 जनवरी) को फतेहपुर के हुसैनगंज थाने के असनी पुल के पास एक डीसीएम (मिनी ट्रक) साड़ियों से लदी एक बड़ी खेप (लगभग 4,500 साड़ियां) को पुलिस ने जब्त किया। गौरतलब है कि आचार सहिंता लागू होते ही यूपी के कई जिलों में हुई अब तक की कार्रवाई में यह पहला मामला है जब पुलिस ने साड़ी से भरा ट्रक बरामद किया है। इससे पहले हुई छापेमारी में अब तक सिर्फ अवैध हथियार और भारी मात्रा में कैश की खेप ही बरामद  हुई है।

रसीद पर लिखा है गायत्री प्रसाद प्रजापति का नाम
पुलिस की पूछताछ में गाड़ी के ड्राईवर सोनू ने बताया कि ये सभी साड़ियां कानपुर से अमेठी में सपा मंत्री गायत्री प्रजापति के यहां ले जाई जा रही थीं। ड्राईवर के पास मिले बिल में इस बात की तस्दीक भी हो रही है। ड्राईवर ने पुलिस को जो बिल दिखाया है उसमें गायत्री प्रसाद प्रजापति का नाम भी लिखा है। बता दें कि गायत्री प्रसाद प्रजापति अमेठी से सपा विधायक हैं और वर्तमान में यूपी सरकार में परिवहन मंत्री के पद पर आसीन हैं। परिवहन मंत्री बनने से पहले गायत्री प्रजापति  भू-तत्व एवं खनिकर्म मंत्री थे, जिन्हें सीएम अखिलेश यादव ने बर्खास्त कर दिया था।

क्या कहना है पुलिस का ?
-एसपी फतेहपुर बलिकरन यादव ने बताया कि गाड़ी में 42 कार्टून लदे थे।
-एक कार्टून में 108 साड़ियां मौजूद हैं।
-जिसके हिसाब से करीब 4500 साड़ियां मौजूद थीं।
-जो चुनाव प्रचार के लिए अमेठी में बांटने के लिए ले जाई जा रही थीं।
-एसपी ने इस मामले में उचित कार्रवाई करने की बात कही है।
-पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।
-इस मामले में पुलिस ने गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

सुप्रीम कोर्ट ने भी दिया झटका
बता दें, कि इससे पहले आज ही सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार के साथ-साथ अवैध खनन मामले में फंसे सपा मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को झटका दिया। सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार की विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) खारिज कर दी। इस मामले में सीबीआई ने अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि यूपी में अवैध खनन में कई बड़े नेता शामिल हैं। इस पर कोर्ट ने जांच जारी रखने को कहा है।