CM योगी का बड़ा एलान, बुंदेलखंड को 6 लेन एक्सप्रेस वे से जोड़ेंगे, खत्म होगी पानी की समस्या

0
72

झांसी: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ गुरुवार (20 अप्रैल) को बुंदेलखंड पहुंचे। उन्होंने सिविल हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण किया। इसके बाद वह स्थानीय अनाज मंडी के लिए रवाना हो गए। सीएम बनने के बाद योगी का यह पहला बुंदेलखंड दौरा है। सीएम ने अनाज मंडी में गेंहू क्रय केंद्र का भी निरीक्षण किया। जहां उन्होंने क्रय केंद्र में मौजूद कई अधिकारियों को फटकार लगाई।

सीएम योगी ने बुंदेलखंड में दो किसानों के खुदखुशी करने पर रिपोर्ट भी मांगी है। गौरतलब है कि बुंदेलखंड का यूपी में काफी महत्व है, चुनाव के दौरान पीएम मोदी ने बुंदेलखंड पर विशेष ध्यान देने की बात कही थी।

यह भी पढ़ें…UP: CM आदित्यनाथ के फरमान की मंत्रियों ने ही की नाफरमानी, भेजना पड़ा रिमाइंडर

क्या कहा सीएम योगी ने
-सीएम आदित्यनाथ योगी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, कि मैंने पहले ही कह दिया था की मेरा पहला दौरा बुंदेलखंड का होगा।
-दो साल के अंदर बुंदेलखंड वासियों को पानी की समस्या से निजात मिलेगी।
-पीएम मोदी की सभी योजनाएं लागू हो जाएं तो बुंदेलखंड की पानी की समस्या खत्म हो जाएगी।
-कोर्ट के आदेश के पर अवैध बूचड़खानों पर एक्शन हुआ।
-एंटी रोमियो दल बनाकर कार्रवाई शुरू करवायी, बहन-बेटियों की असुरक्षा हरगिज स्वीकार नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें…CM योगी ने कहा- मेक इन इंडिया की तर्ज पर मेक इन यूपी’ के अभियान को बनाएंगे सफल

-सीएम ने एक बड़ा एलान करते हुए कहा कि बुंदेलखंड को 6 लेन एक्सप्रेस वे से जोड़ेंगे।
-भ्रष्टाचार और अराजकता के खिलाफ किसी से कोई समझौता नहीं किया जाएगा।
-किसी भी गरीब के घर में उज्जवला योजना का सिलेंडर पहुंचता है, तो ये अच्छे दिन की शुरुआत है।
-पूर्व की सरकार ने बिजली देने का वादा पूरा नहीं किया, लेकिन हम इस वादे को पूरा करेंगे।

यह भी पढ़ें…CM योगी की सख्ती: प्राइवेट प्रैक्टिस करने वाले कई डॉक्टर हो सकते हैं सरकारी नौकरी से अलविदा

प्राइमरी स्कूल का निरीक्षण किया
सिविल हॉस्पिटल और गेंहू क्रय केंद्र के निरीक्षण के बाद सीएम योगी प्राइमरी स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने मिड- डे मील की जानकारी ली और क्लास में पीने के पानी की जांच भी की। इसके साथ ही योगी ने वहां मौजूद बच्चों से बात की। योगी सरकार ने बुंदेलखंड के लिए पेयजल परियोजना का ऐलान किया है। इसके साथ ही बुंदेलखंड को 20 घंटे बिजली देने का ऐलान भी किया है।

यह भी पढ़ें…UP: CM आदित्यनाथ की टीम में रेलवे अधिकारी की नियुक्ति मुसीबत में पड़ी

भूमि उपजाऊ नहीं कर्ज माफी का लाभ नहीं मिल पाएगा
सीएम योगी इस दौरे के दौरान किसानों से भी मिल सकते हैं। भारतीय किसान यूनियन का कहना है कि पिछले 22 महीने में लगभग 850 किसानों ने खुदखुशी की है, जिसमें से 178 को मुआवजा मिल पाया है। किसानों के मुताबिक उन्हें बिजली के बिल में छूट नहीं मिल पा रही है। उनका यह भी कहना है, कि उनकी भूमि अभी उपजाऊ नहीं है, तो क्या उन्हें कर्ज माफी का लाभ नहीं मिल पाएगा।