ODOP: राज्यपाल ने राष्ट्रपति को दी ‘एक जनपद एक उत्पाद’ की पहली कॉपी

लखनऊ: योगी सरकार के ‘एक जनपद एक उत्पाद’ (ODOP) समिट में राज्यपाल राम नाइक ने ‘एक जनपद एक उत्पाद’ की कॉफी टेबल बुक की पहली प्रति राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को दी। इसके साथ ही, इस समिट में एक जनपद एक उत्पाद के टोल फ्री नंबर की शुरुआत की गई। यही नहीं, राष्ट्रपति ने ODOPUP की वेबसाइट की शुरुआत भी की।

अब ऐसे में इस वेबसाइट पर एक क्लिक पर सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी। वहीं, अन्य जिलों में भी ऋण पत्र बांटने के कार्यक्रम का सजीव प्रसारण हो रहा है। राष्ट्रपति ने एक बटन दबाकर 4095 लाभार्थियों को 1006 करोड़ की धनराशि ट्रांसफर की।

राष्टपति ने लाभार्थियों को चेक भी दिया। इसके अलावा तीन शिल्पकारों को प्रतीकात्मक रूप से टूल किट दिया गया। बता दें, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सुबह 11:37 बजे कार्यक्रम स्थल, ज्यूपिटर हाल में प्रवेश किया। मंच पर प्रदेश के राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने उनका स्वागत किया।

परम्परानुसार राष्ट्रपति के आने पर सर्वप्रथम ‘राष्ट्रगान’ हुआ। इसके उपरान्त राष्ट्रपति ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। स्वागत भाषण के लिए आयोजक विभागीय मंत्री सत्यदेव पचौरी को अवसर मिला। उन्होंने ‘एक जनपद एक उत्पाद’ योजना के बारे में बताते हुए इसकी सफलता का श्रेय मुख्यमंत्री को दिया। साथ ही, उन्होंने मुख्यसचिव सहित विभाग के अधिकारियों की भी प्रशंसा की।

अब राष्ट्रपति महोदय के हाथों से 75 जनपदों के लाभार्थियों को 1000 करोड़ का ऋण वितरित किया जाना है। उससे पहले कई कंपनियों जैसे ‘अमेजन’, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज आदि ने सरकार की ओर से मुख्यसचिव एवं अन्य अधिकारियों के साथ एमओयू हस्ताक्षरित कर आदान प्रदान किया।

राष्ट्रपति के हाथों ओडीओपी के टोल फ्री नंबर और ओडीओपी की बेबसाइट का शुभारम्भ हुआ,  एक बटन दबाकर उन्होंने इन सुविधाओं को जनता को समर्पित किया।

इसके बाद राष्ट्रपति महोदय ने कानपुर के अतुल शर्मा को 35 लाख, उन्नाव के मोईन खान को 7।50 लाख एवम् लखनऊ के मोहित वर्मा को 10 लाख के ऋण के चेक प्रदान किये। साथ ही राष्ट्रपति ने डिजिटल टेक्नीक का उपयोग कर एक बटन दबाकर पूरे प्रदेश के लाभार्थियों के खातों में 1006.94 करोड़ रुपये का कुल ऋण वितरित किया।