नोटबंदी पर अखिलेश का छलका दर्द- ‘कब आएंगे व्यापारियों के अच्छे दिन’

0
228

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के व्यापारी सम्मेलन में रविवार (10 दिसंबर) नोटबंदी को लेकर सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का दर्द छलका। उन्होंने इस मौके पर सीधे व्यापारियों के दिलों को छूने का प्रयास करते हुए केंद्र सरकार पर तीखा हमला बोला।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि नोटबंदी के चलते यूपी के व्यापारियों का बिजनेस पूरी तरह से ठप हो चुका है। छोटे बिजनेस करने वालों का हाल और अधिक बुरा है। इस परेशानी से उबरने के लिए सभी व्यापारियों को एक जुट होकर बदलाव के लिए आंदोलन करना होगा। तभी जाकर यूपी में बिजनेस मैन के अच्छे दिन आएंगे। वहीं, प्रदेश में अगर सपा की सरकार फिर बनी तो व्यापारियों की सुरक्षा के लिए अलग से कानून बनाया जाएगा।

व्यापारियों ने बताई समस्या
सपा का व्यापारी सम्मेलन राजधानी स्थित समाजवादी कार्यालय पर हुआ। उद्योग व्यापार संगठन को लेकर कार्यक्रम आयोजित हुआ था, जिसमें काफी संख्या में व्यापारियों ने भाग लिया। सम्मेलन में व्यापारियों ने अपनी समस्या भी पूर्व सीएम अखिलेश यादव को बताई। इस पर हम साथ हैं ऐसे संकेत देते हुए अखिलेश दिखे। इस दौरान सपा के रामगोपाल यादव, नरेश अग्रवाल सहित पार्टी के सभी बड़े पदाधिकारी मौजूद रहे। पूरे सम्मेलन में नोटबंदी का मुद्दा हावी रहा।

नोटबंदी से हुआ बड़ा नुकसान
नोटबंदी से होने वाले नुकसान को लेकर अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से सबसे अधिक व्यापारी ही परेशान हुए हैं। यूपी से लेकर पूरे देशभर में कोई भी व्यापारी खुश नहीं है। नोटबंदी का असर गुजरात में भी देखने को मिल रहा है।

किसान और व्यापारियों को साथ चलने की जरूरत
पूर्व सीएम अखिलेश के मुताबिक, अगर यूपी में व्यापारियों को खुश रहना है तो उनको किसानों के साथ दोस्ती करने की जरूरत है। यूपी का विकास तभी होगा, जब हमारे किसानों को उनकी पैदावार का असली दाम मिलेगा। इसके लिए व्यापारियों को साथ देने की जरूरत है। किसान-व्यापारी जोड़ी बनाकर चलेंगे तो दोनों लोग खुशहाल रहेंगे। अखिलेश ने कहा कि हमारी सरकार आने पर व्यापारी सुरक्षा के लिए अलग से एक कानून बनाया जाएगा।

loading...