अंडर-19: टीम इंडिया से काफी उम्मीदें, विश्व कप में 16 टीमें ले रही हैं भाग

0
225

नई दिल्ली: आईसीसी अंडर-19 विश्व कप आधिकारिक रूप से 7 जनवरी को क्राइस्टचर्च के हैगले ओवल में रंगारंग कार्यक्रम के साथ शुरू हुआ जिसमें न्यूजीलैंड की संस्कृति की झलक दिखाई गयी। विश्व कप के मैच क्राइस्टचर्च, क्वीन्सटाउन, तौरंगा और वहानगारेई के सात स्थलों पर खेले जाएंगे। भारत अपना पहला मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलेगा। टीम को इस मुकाबले का बेसब्री से इंतजार है। विश्व कप में 16 टीमें भाग ले रही हैं और टूर्नामेंट का फाइनल तीन फरवरी को तौरंगा में खेला जाएगा।

7 मैदानों में 48 मैच खेले जाएंगे : इस बार न्यूजीलैंड में खेले जा रहे अंडर-19 वल्र्ड कप 2018 में कुल 48 मैच खेले जाएंगे। इन मैचों के लिए यहां 7 मैदानों को निर्धारित किया गया है। टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही 16 टीमों को 4-4 टीमों के चार ग्रुप में बांटा गया है। सभी टीमों को 3-3 लीग मैच खेलने हैं। इनमें से हर ग्रुप की टॉप दो-दो टीमें टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल राउंड के लिए क्वालिफाई करेंगी। यहां से 4 टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेंगी और फिर सेमीफाइनल में जीतने वाली दो टीमें टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले में आमने-सामने होंगी। टूर्नामेंट का खिताबी मुकाबला (फाइनल) 3 फरवरी (शनिवार) को तौरंगा में खेला जाएगा।

तैयारी भारत की : इस टूर्नामेंट में देश के युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ और टीम के कोच राहुल द्रविड़ की अग्निपरीक्षा होगी। जूनियर टीम इंडिया एक बड़ी चुनौती के लिए तैयार हो रही है। भारत की अंडर-19 क्रिकेट टीम वल्र्ड कप में हिस्सा लेने के लिए न्यूजीलैंड में है। टीम 14 जनवरी का इंतजार कर रही है। टीम को पिछले बार का बदला चुकाना है। टीम का सपना इस बार खिताब घर लेकर आना है। मौजूदा उपविजेता भारत की टीम 14 जनवरी को ऑस्ट्रेलिया के साथ टूर्नामेंट का आगाज करेगी। भारतीय टीम की कमान प्रतिभाशाली बल्लेबाज पृथ्वी शॉ के हाथों में है। भारत को बांग्लादेश में खेले गए पिछले अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में वेस्टइंडीज से हार का सामना करना पड़ा था।

टीम इंडिया को इस टूर्नामेंट में ग्रुप बी में रखा गया है। इस ग्रुप में भारत के अलावा ऑस्ट्रेलिया, पपुआ न्यू गिनी और जिम्बाब्वे की टीमें हैं। भारत के सभी मैच डे/नाइट होंगे, जो माउंट मौंगानुई में खेले जाएंगे। भारत इस दौरे पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगा। यह इस टूर्नामेंट का छठा मैच होगा, जो 14 जनवरी को खेला जाएगा। इसके दो दिन बाद भारत पपुआन्यू गिनी के खिलाफ खेलेगा।

भारत अंडर -19 टीम : पृथ्वी शॉ (कप्तान), शुभमन गिल (उपकप्तान), मंजोत कालरा, हिमांशु राणा, अभिषेक शर्मा, रियान पराग, आर्यन जुयाल (विकेटकीपर), हार्विक देसाई (विकेटकीपर), शुभम मावी, कमलेश नागरकोटी, इशान पोरेल, अर्शदीप सिंह, अनुकूल रॉय, शिवा सिंह, पंकज यादव।

अतिरिक्त खिलाड़ी : ओम भोसले, राहुल चाहर, निनाद राठवा, उर्विल पटेल और आदित्य ठाकरे।

अंडर 19 से मिले कई शानदार खिलाड़ी

अंडर 19 के सफर से देश की क्रिकेट टीम को शानदार खिलाड़ी मिले जो अपने धुआंधार खेल से भारतीय क्रिकेट में अपनी जगह बनाए हुए हैं। इस महत्वपूर्ण प्रतियोगिता पर सबकी नजरें लगी हुई हैं। इस बार देश उम्मीद कर रहा है कि पिछली हार का बदला कप जीतकर चुकाया जा सकता है। माना जाता है कि अंडर 19 टीम से खेलने के बाद टीम इंडिया में स्थान बनाना आसान हो जाता है।

ऋषभ पंत : ऋषभ हाल ही में दिल्ली की टीम को अपनी कप्तानी में रणजी ट्रॉफी के फाइनल तक पहुंचा चुके हैं। वैसे पंत को इधर झटका लगा है। दिल्ली डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन यानी डीडीसीए में उन्हें कप्तानी से हटाकर प्रदीप सांगवान को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए दिल्ली की टीम की कप्तानी सौंपी है।

वाशिंगटन सुंदर : वाशिंगटन सुंदर के अर्धशतक की मदद से भारत ने आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में आयरलैंड को 79 रन से हराकर अपने अभियान की शानदार शुरुआत की थी। सुंदर भारत की टीम की ओर से भी खेल चुके हैं। वे इस समय राइजिंग पुणे से खेलते हैं।

अरमान जाफर : घुटने की चोट झेल रहे भारतीय घरेलू क्रिकेट के दिग्गज बल्लेबाज वसीम जाफर के भतीजे अरमान जाफर ने कूचविहार अंडर-19 क्रिकेट में नया इतिहास रच दिया है। मुंबई के लिए खेलते हुए अरमान ने लगातार तीन दोहरे शतक समेत लगातार चार शतक लगाए।

खलील अहमद : खलील अहमद राजस्थान के टोंक जिले के निवासी हैं। खलील दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम से आईपीएल खेलते हैं।

 

महिपाल लोमरोर : अंडर-19 वल्र्ड कप में आयरलैंड के खिलाफ हुए पहले मुकाबले में लोमरोर ने 17 रन बनाए और 28 रन देकर 2 विकेट भी लिए। इसके बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए मुकाबले में उन्होंने 45 रन बनाए और 47 रन देकर 5 विकेट भी झटके। इन दोनों लीग मुकाबलों से पहले हुए अभ्यास मैच में भी उनका प्रदर्शन कमाल का रहा था। कनाडा के खिलाफ पहले अभ्यास मैच में लोमरोर 55 रन बनाकर नाबाद रहे और 19 रन देकर 3 विकेट भी झटके। महिपाल राजस्थान के नागौर जिले से हैं।

मयंक डांगर : हिमाचल प्रदेश के मयंक ने अभी तक 8 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं और उन्होंने 30.57 के औसत से 28 विकेट अपने नाम किए हैं। मयंक गेंदबाज हैं। बल्लेबाजी में उन्होंने इतने ही मैचों में कुल 126 रन बनाए हैं।

राहुल बॉथम : टीम इंडिया में भोपाल के राहुल बॉथम ने आलराउंडर के रूप में स्थान बनाया है। दाएं हाथ से बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने वाले राहुल करीब तीन साल से ट्रेनिंग ले रहे हैं।

अमनदीप खरे : भिलाई शहर के अमनदीप खरे का अंडर 19 क्रिकेट वल्र्ड कप टीम का हिस्सा रहे। वल्र्ड कप टीम में चयन के लिए चैलेंजर ट्रॉफी के दूसरे मैच में इंडिया ग्रीन के खिलाफ अमनदीप ने 93 रन बनाए थे। इसके साथ ही अंडर 19 जोनल वीनू मांकड ट्रॉफी में सेंट्रल जोन की तरफ से 2 शतक और 2 अर्धशतक की बदौलत 404 रन बनाए थे।

रिकी भुई : आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद टीम में शामिल रिकी भारत की ओर से साल 2014 और 2016 में हुए अंडर-19 क्रिकेट वल्र्ड कप में खेल चुके हैं। इसके अलावा वे आंध्र प्रदेश की अंडर-19 टीम के प्लेयर भी रहे हैं। फिलहाल वे आंध्र की रणजी टीम के सदस्य हैं और अब तक रणजी में दो सेन्चुरी भी लगा चुके हैं। रिकी भुई ने 2013 में अपने अंडर-19 कॅरियर की शुरुआती नौ इनिंग्स में से सात मैचों में 30+ स्कोर बनाया था, जिसमें तीन हाफ सेन्चुरी भी शामिल हैं।

इशान किशन : झारखंड के विकेटकीपर बल्लेबाज इशान किशन को बांग्लादेश में हुए आईसीसी अंडर 19 विश्व कप के लिए भारत की जूनियर टीम के कप्तान थे। वे इस समय गुजरात लॉयन के लिए खेलते हैं।

अनमोलप्रीत सिंह : पंजाब के अनमोलप्रीत सिंह रणजी टीम में युवराज सिंह की जगह आए हैं। अनमोलप्रीत अकेले ऐसे रणजी खिलाड़ी हैं जिसने एक ही सत्र में दो दोहरे शतक जड़े हैं। उन्हें साल 2014-15 के लिए बीसीसीआई के अंडर 19 प्लेयर का एमए चिदम्बरम ट्रॉफी का अवार्ड मिल चुका है।