गांव में घुसा पानी, मकान सहित फसलों का हुआ ऐसा हाल….

शामली :  कैराना कोतवली क्षेत्र के गांव मामौर में हल्की बारिश में ही मामौर झील ओवरफ्लो होकर टूट गई। जिससे गांव में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए। गांव में पानी आ जाने से एक मकान भरभराकर गिर गया और कई घरों में पानी भर गया। करीब 600 बीघा धान और ज्वार की फसल जलमग्न हो गई है।

दरअसल, जनपद शामली के कैराना क्षेत्र के मामौर गांव में एक झील है। कैराना से नाले द्वारा गंदा पानी मामौर झील में जाता है। वहीं, पिछले एक सप्ताह से बारिश शुरू हो गई है। बारिश और कैराना से गन्दे नाले का पानी मामौर झील में इक्ट्ठा होने के कारण झील ओवरफ्लो हो गई। जिससे झील के किनारे टूटने शुरू हो गए। जिसके बाद आसपास के खेतों में पानी घुस गया और फिर गांव तक पहुंच गया।

ग्रामीणों में दहशत है कि कहीं उनके घर पानी में ढह न जाएं। गांव में फिलहाल बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। ग्रामीण अपने घरों से सामान निकालकर इधर-उधर सुरक्षित स्थानों पर भेज रहे हैं। झील टूटने से ग्रामीणों को भारी त्रासदी का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं, सैकड़ों बीघा किसानों की खेतों में खड़ी फसल भी पानी में डूबकर पूरी तरह से नष्ट हो चुकी है, जिसे लेकर किसान चिंतित नजर आ रहे हैं। वही एसडीएम सुरजीत सिंह का कहना है कि मामौर झील के ओवरफ्लो होने के कारण टूटने तथा मकान गिरने की जानकारी उन्हें नहीं है। आपके द्वारा पता चला है। गांव में टीम के साथ मौका का मुआयना किया जाएगा।

ग्रामीण अशरफ ने बताया कि हमारे गांव में एक बहूत बडी झील है। गांव में झील का पानी आ जाने से खेतों में खड़ी हजारों बीघा फसल भी नष्ट हो गई है। झील में कैराना से नाले का पानी आता है। जिसकी अधिकारियो को कई बार शिकायत भी कर ली है। लेकिन शासन द्वारा कोई कार्यवाही नही की गई है। बरसात के मौसम में झील में ज्यादा पानी भर जाने से झील का किनारा टूट कर गांव में आ गया। और एक मकान गिर गया। मकान गिरने से उसमे रहने वाले लोग भी बाल-बाल बच गये है।

 

    Tags: