स्टार्टअप इंडिया का असर, काशी की बेटी ने नौकरी छोड़ कर कचरे से खड़ा किया लाखों का कारोबार

sikha startup india pm modi
1 of 7

sikha startup india pm modi

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्टार्टअप इंडिया और मेक इन इंडिया का असर अब उनके संसदीय क्षेत्र काशी में भी दिखने लगा है। वाराणसी की एक ग्रेजुएट छात्रा शिखा शाह नगर निगम के कचरे से काशी के हर घर को संवारने की कोशिश कर रही है। यही नहीं कचरे को रिसाइकिल करने के बाद बनी खूबसूरत औऱ उपयोगी चीजों को शहर से लेकर सात समंदर पार तक फेसबुक, स्नैपडील जैसे साइट से बेच रही है। शिखा पीएम मोदी के आईडियाज की दीवानी हैं।

उनका कहना है कि मोदी के स्टार्टअप इंडिया के विजन ने भारत के शहर से लेकर गांव में रहने वाले लोगों की सोच को बदल कर रख दिया है। पहले भारत के 80 प्रतिशत अभिभावक स्टार्टअप का नाम तक नहीं जानते थे। आज वे स्टार्टअप और मेक इन इंडिया को बखूबी समझने लगे हैं और अपने बच्चों को सपने को साकार करने में पूरा सहयोग कर रहे हैं।

आमतौर पर माता पिता अपने बच्चों के सपने को पूरा करने के लिए हर संभव कोशिश करते हैं। लेकिन कम ही बच्चे होते हैं, जो अपने सपने को छोड़ कर अपने माता-पिता के सपनों को पूरा करने के लिए हर दांव लगाते हैं। उन्हीं में से एक है शिखा, जिसने दिल्ली से लगायत तमाम शहरों में जाकर हायर एजुकेशन लिया। उसके बाद बड़ी कंपनी में काम भी किया। लेकिन वहां अपना सपना पूरा होता नहीं दिखा, तो शिखा लाखों रुपए की नौकरी को लात मार कर शहर के कचरे से अपना और अपनी मां के साथ ही तमाम बेरोजगारों का जीवन सवांरने की कोशिश कर रही है।

आगे की स्लाइड में जानिए कब आया शिखा के मन में यह आईडिया

1 of 7

Loading...
loading...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App