priyanka gandhi

आशुतोष सिंह वाराणसी। प्रियंका गांधी के एक्टिव पॉलिटिक्स में एंट्री के बाद यूपी की सियासी तस्वीर करवट ले रही है। बैकफुट पर नजर आने वाली कांग्रेस अब फ्रंटफुट में खेलती नजर आ रही है। कांग्रेस की बढ़ती ताकत देख उसे नजरंदाज करने वाली पार्टियों सपा-बसपा के रुख में भी बदलाव नजर आने लगा है। गठबंधन …

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने बीते मंगलवार को उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों का बंटवारा प्रदेश के दोनों प्रभारियों के बीच कर दिया। यूपी ईस्ट प्रभारी प्रियंका गांधी को 41 लोकसभा सीटों का प्रभार मिला है और यूपी वेस्ट प्रभारी ज्योतिरादित्या को 39 लोकसभा सीटों का प्रभार मिला है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा, उनका मुकाबला पीएम नरेंद्र मोदी से नहीं है, उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी टक्कर देंगे। बुधवार अल-सुबह तक प्रियंका ने लोकसभा क्षेत्रों से आए पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

कांग्रेस के लखनऊ में हुए मेगा रोड शो के बाद प्रियंका गांधी वाड्रा के लेकर बयानबाजी और कयासबाजी का दौर चल निकला है। जो पक्ष में हैं वो फायदे गिना रहे हैं जो विपक्ष में हैं वो प्रियंका को धूमकेतु से अधिक नहीं मान रहे हैं।

कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव प्रियंका गांधी ने लखनऊ में भारी भरकम रोड शो कर चुनाव प्रचार का आगाज कर दिया। यूपी में सपा-बसपा अब कांग्रेस के साथ जाने का मन बनाने लगी हैं। वहीं बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने कहा, अगर उन दोनों में दम है तो वे उन्नाव से मेरे खिलाफ चुनाव लड़कर दिखाएं।

अब इस समय वो बहुत सारी योजनाओं का दिखावा कर रहे हैं। उससे कुछ होने वाला नहीं है। क्योंकि देश में भी एक माहौल कांग्रेस के पक्ष में जा चुका है। अब बीजेपी का नुकसान होगा और कांग्रेस बहुत मजबूत होने वाली है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सामानांतर बातचीत की। इस दौरान राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से 'चौकीदार चोर है' के नारे लगवाए। उन्होंने कहा कि अब हम फ्रंट फुट पर खेलेंगे और जब तक कांग्रेस की सरकार यूपी में नहीं बनती चैन से नहीं बैठेंगे।

प्रियंका गांधी के एक्टिव पॉलिटिक्स में एंट्री के बाद यूपी की सियासत गर्म है। लखनऊ में जहां रोड शो के जरिए प्रियंका की शाही लॉचिंग की गई तो वहीं दूसरी ओर उनके विरोधियों ने भी कमर कस लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में प्रियंका के खिलाफ भाजपाईयों का गुस्सा देखने को मिला।