Kumbh 2019

दुनिया भर के लोग भव्य कुंभ की दिव्यता देखने हजारों किलोमीटर दूर से चले आ रहे हैं। संगम में मोक्ष की एक डुबकी लगा लेने को आतुर विशाल जनसमूह रोज ही बड़ी संख्या में कुंभनगरी पहुंच रहा है। शाही स्नान पर तो संख्या करोड़ों में पहुंच जाती है।

प्रयागराज में रविवार रात एक बड़ा हादसा हो गया। इस हादसे में एक युवक की मौत हो गई। दरअसल रविवार रात 11 बजे एक टोयोटा कार पीपा पुल नं 15 पर अनियंत्रित रेलिंग तोड़ते हुए गंगा नदी में जा गिरी। इस हादसे में कार सवार 22 वर्षीय युवक की मौत हो गई जबकि उसका दोस्त तैरकर बाहर निकल आया।

आध्यात्म और तप की नगरी कुंभ में माघी पूर्णिमा पर कल्पवास पूर्ण हो रहा है। वसंत पंचमी के शाही स्नान के साथ ही मेले से संतों का डेरा उठने लगा था। सेक्टर 16 समेत कई सेक्टरों में सन्नाटा पसरने लगा था, लेकिन शुक्रवार से अचानक कुंभ नगरी में श्रद्धालुओं की हलचल तेज हो गई।

दिव्य कुंभ भव्य कुंभ की दिव्यता को देखने के लिए उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू शनिवार को प्रयागराज आ रहे हैं। उपराष्ट्रपति के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे।

कश्‍मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर देश भर में आक्रोश है। कुंभनगर में संत भी इस घटना से मर्माहत हैं। संत स्‍पष्‍ट रूप से मानते हैं कि यह कायराना कार्रवाई पाकिस्‍तान की ओर से कराई गई है।

पुरातन तथ्यों के आधार पर प्रयागराज के महत्व व उसके इतिहास से जुड़ी छोटी से छोटी जानकारियों को समेटे हुई शार्ट फिल्म निर्माता सुरेश नारायणन द्वारा निर्मित " तीर्थ राज प्रयाग राज " के डीवीडी का लोकार्पण 12 फरवरी  को पद्मश्री अनूप जलोटा द्वारा हुआ।

योग महोत्सव में विश्व के 37 देशों से आये श्रद्धालुओं ने भाग लिया। प्रातः कालीन सत्र का शुभारम्भ योगाचार्य युवा दायलान द्वारा कराये गये युवा योग से हुआ। प्रातः से सायं कालीन सत्र में योग, ध्यान, योग निद्रा, मुद्रा और आसनों का अभ्यास भारत सहित विश्व के अनेक देशों से आये योगाचार्यो ने कराया।

जिसके बाद परिजनों ने राहत की सांस ली और वह भी घर को रवाना हो गए। आखिरकार कुंभ मेले में बने प्रशासनिक भूले भटके शिविर में एनाउंसमेंट बंद होने का मामला चर्चा का विषय बना रहा।

दिनांक 13, 14 एवं 15 को दोपहर 02 बजे से 07 बजे तक विभिन्न संतो एवं जनजाति प्रमुखों का मार्गदर्शन जनजातीय नृत्यों का प्रदर्शन किया जाएगा। 15 फरवरी को समापन कार्यक्रम सम्पन्न होगा।

सभी विभाग और कार्यदायी संस्थाएं अपने स्थाई और अस्थाई कार्यों का अभिलेख पूर्ण रखें उक्त बातें कुंभ मेलाधिकारी विजय किरन आनंद ने सोमवार को मेला प्राधिकरण कार्यालय के सभागार में सभी विभागों के वरिष्ठ अधिकारयों को समीक्षा बैठक के दौरान निर्देशित करते हुए कहा।