लव हो या अरेंज शादी के शुरुआत से ही ना करें ये गलतियां, नहीं तो पड़ेगा पछताना

जयपुर: शादी के बाद का पहला साल हनीमून के लिए रहता है। इस दौरान दोनों ही पार्टनर एक दूसरे के प्यार में मग्न होते हैं और उन्हें हर चीज परफेक्ट नजर आती है और इसके पीछे भी एक वजह है। जब शादी का नया नया दौर होता है तब ज्यादा परेशानी नहीं आती है जो बाद दिखने लगती हैं। इस दौरान अपने रिश्ते में एक झूठे आश्वासन और सुरक्षा की भावना से घिरे रहते हैं।

शायद एहसास नहीं होता है लेकिन इस दौरान कुछ अहम रोल और जिम्मेदारियों को पूरा करने की जरूरत होती है और आपके ऐसा ना कर पाने के कारण ही आपको आगे चल कर परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मगर आपको घबराने की जरूरत नहीं है। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको ये जानने में मदद मिलेगी कि ऐसी कौन सी गलतियां हैं जो आप और आपके पार्टनर शादी के पहले साल में करते हैं। जिनकी वजह से आप अपने शादी के भविष्य को भी खतरे में डाल देते हैं।आप शादी से बाहर लोगों से मिलना जुलना कर देते हैं कम इस बात की संभावना काफी ज्यादा रहती है कि शादी के बाद का शुरुआती समय आप दोनों एक दूसरे के साथ ही बिताएं। ऐसा ना करें। याद रखें कि आपकी सोशल लाइफ भी है और उसे अटेंशन देना भी उतना ही जरूरी है।

रामलला की जमीन को रातोंरात VHP के हवाले कर दिया जाए: सुब्रमण्यम स्वामी

अब आपकी शादी हो चुकी है तो इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि आपका पार्टनर बदल जाएगा। आपको ये स्वीकार करना होगा कि आपने जिस शख्स से शादी की है वो आगे ऐसे ही रहने वाला है। शादी के पहले साल में आप किसी भी तरह की लड़ाई या बहस से बचते होंगे। ऐसा आप इसलिए करते हैं ताकि आप शादी के पहले साल में ही किसी तरह की टेंशन ना लें और आपका हनीमून पीरियड खराब ना हो। लेकिन ऐसा करना ठीक नहीं है। आपको अपने अंदर इतना साहस लाना पड़ेगा कि जो चीजें सही नहीं चल रही हैं उनके बारे में खुल कर बोल सकें।
आपको घर को ठीक रखने में अपना रोल अदा करना होगा। आप उस रोल को जिम्मेदारी के साथ पूरा करें। आपके घर के काम अपने आप ही पूरे नहीं हो जाएंगे। इसके लिए आप दोनों को प्रयास करना होगा।

आप हर बार अपनी फीलिंग्स को नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं। अपनी भावनाओं को व्यक्त करना भले ही कितना भी मुश्किल हो, मगर फिर भी आपको इसे जाहिर करना होगा। आपको अपने पार्टनर के साथ खुलकर बात करनी होगी। उनसे कुछ छिपाने की कोशिश ना करें, खासतौर से अपनी फीलिंग्स को लेकर।
आप दोनों अब पति पत्नी बन चुके हैं इसका मतलब ये नहीं है कि आपकी व्यक्तिगत पहचान खत्म हो गयी है। आप अब भी वो काम कर सकते हैं जिनसे आपको खुशी मिलती है। आप शादी के बाद भी अपने पैशन को जारी रख सकते हैं।

आपको तुरंत ही अपने परिवार को बढ़ाने के बारे में सोचकर खुद पर दबाव नहीं बनाना चाहिए। शादी को लेकर आपको ये सलाह दी जाती है कि आप पहले खुद पर फोकस करें। आप खुद पर अतिरिक्त जिम्मेदारी लाने से पहले एक कपल के तौर पर खुद को तैयार करें।घर का हिसाब किताब करना टीम एफर्ट है। आप इस मामले में आलस नहीं कर सकते हैं। आपको समझदारी दिखानी होगी और खर्चों का हिसाब किताब करने में ध्यान लगाना चाहिए। बहुत सी शादियां सिर्फ पैसों को आधार बनाकर खत्म हुई हैं। शादी के पहले साल में ही आप इस पर काम कर लें।