वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि दुनिया को अब ‘सुरक्षित’ महसूस करना चाहिए, क्योंकि उत्तर कोरिया से अब दुनिया को परमाणु खतरा नहीं है।

उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग-उन के साथ सिंगापुर में मंगलवार को ऐतिहासिक शिखर बैठक के बाद वाशिंगटन लौटने पर ट्रंप ने ट्वीट किया, “मेरे पद संभालने की अबतक की अवधि के दौरान अब से हर कोई अपने को सुरक्षित महसूस कर सकता है। उत्तर कोरिया से अब परमाणु खतरा नहीं है।”

किम जोंग उन से मुलाकात करने के बाद बोले ट्रंप, ‘हम दोबारा मिलेंगे और कई बार मिलेंगे’

उन्होंने कहा, “किम जोंग-उन के साथ बैठक मजेदार रही और यह सकारात्मक अनुभव था। उत्तर कोरिया के पास भविष्य की अपार संभावनाएं हैं।”

राष्ट्रपति ने कहा, “मेरे पद संभालने से पहले लोग अनुमान लगाते थे कि हम उत्तर कोरिया के साथ युद्ध करने वाले हैं। राष्ट्रपति ओबामा ने कहा था कि उत्तर कोरिया हमारी सबसे बड़ी और सबसे खतरनाक समस्या है। अब नहीं है।”

ट्रंप ने कहा, “उत्तर कोरिया के निरस्त्रीकरण पर महान प्रगति हुई। बंधक वापस आ रहे हैं, हम अपने महान नायकों के अवशेष उनके परिवारों तक पहुंचा रहे हैं। अब कोई मिसाइल नहीं दागा जाएगा, कोई अनुसंधान नहीं होगा, परमाणु साइट बंद हो रहे हैं।”

किम-ट्रंप मुलाकात: इतिहास के बोझ से बाहर निकले दोनों देश, दुनिया देखेगी बदलाव

उन्होंने कहा, “किम का महान साथ मिला, जो अपने देश के लिए बेहतरीन चीजों को करना चाहते हैं। जैसा कि मैंने पहले कहा था : युद्ध तो कोई भी कर सकता है, लेकिन सबसे बहादुर व्यक्ति ही शांति की स्थापना कर सकता है।”

इससे पहले ट्रंप ने किम को उनके लोगों के ‘बेहतर भविष्य’ के लिए साहसी कदम उठाने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि मंगलवार को आयोजित शिखर बैठक से दुनिया संभावित परमाणु विनाश से बहुत दूर हो गई है।

उन्होंने कहा कि किसी अमेरिकी राष्ट्रपति और उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता के बीच हमारी अभूतपूर्व बैठक- ने यह साबित कर दिया कि वास्तविक बदलाव संभव है।