पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर रार, अखिलेश यादव ने बोला हमला, बजरंगी की हत्या को बताया सरकार प्रायोजित

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केंद्र की नरेन्द्र मोदी और प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोला है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के शिलान्यास कार्यक्रम और क़ानून व्यवस्था के मुद्दे पर के मुद्दों पर असफल बताते हुए समाजवादी पार्टी के कामो को ही खुद का काम बता कर उद्घाटन और शिलान्यास करने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें: पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के शिलान्यास पर उठे सवालों का डिप्टी सीएम ने दिया ये जवाब

इस दौरान अखिलेश यादव ने कास्ट कटिंग के नाम पर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से लाईट और सर्विस लेन कम करने की बात करने की बात कही है। यही नहीं बागपत जेल में माफ़िया मुन्ना बजरंगी की ह्त्या को सरकार द्वारा प्रायोजित क़रार दिया है।

सीएम पीएम को दे रहे धोखा, वाराणसी को नहीं जोड़ा एक्सप्रेसवे से

एक तरफ पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का शिलान्यास कार्यक्रम में प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल हो रहे हैं, दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पीएम और सीएम पर हमला बोला है। अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन वह पहले ही कर चुके थे। अब सिर्फ नाम बदल कर दोबारा पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का शिलान्यास किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी आज पूर्वांचल से खींचेंगे विकास का नया खाका, जाने क्यों खास है आजमगढ़

उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को फैज़ाबाद, गोरखपुर और वाराणसी से जोड़ने का सरकार ने दावा किया था। लेकिन जो एलाइनमेंट समाजवादी सरकार में था। उस में कोई बदलाव नहीं किया गया है। अखिलेश यादव ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धोखा दे रहे हैं। इसी लिए एक्सप्रेसवे से वाराणसी को नहीं जोड़ा गया यह जानकारी पीएम को भी नहीं है।

एक्सप्रेसवे की कास्ट कटिंग के नाम पर सुविधाएं हुई कम

अखिलेश यादव ने योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि कास्ट कटिंग के नाम पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर सुविधाएं कम की गई है। उन्होंने कहा कि कास्ट कटिंग के नाम पर एक्सप्रेसवे से लाईट हटा दी गई है। सर्विस लेन भी नहीं दी है। इस के अलावा लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर जिस तरह की सुविधाएं यात्रियों को दी गईं हैं, वह सुविधा भी एक्सप्रेसवे पर नहीं मिलेगी।

अखिलेश ने कहा कि टेण्डर में सड़क की लम्बाई कुछ दिखाई और असलियत में कुछ है जिस से सरकार की बदनीयती साफ झलक रही है। अखिलेश यादव ने मलीहाबाद की आम मण्डी, कन्नौज का परफ्यूमरी पार्क समेत कई काम रोके जाने का इलज़ाम भी योगी सरकार पर लगाया है।

मुन्ना बजरंगी की हत्या सरकार द्वारा प्रायोजित

अखिलेश यादव ने क़ानून व्यवस्था के मुद्दे पर भी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में भय का माहौल है। लोग जितना डरे हुए इस से पहले इस तरह की अराजकता का माहौल कभी नहीं रहा है। उन्होंने कहा कि जेल में बंद मुन्ना बजरंगी की ह्त्या सरकार द्वारा प्रायोजित थी इसी लिए इतनी बड़ी घटना पर राज्यपाल नहीं बोलेंगे।

काम हमारा, श्रेय ले रही है योगी सरकार

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे कार्यक्रम में प्रधानंमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी के बीच अखिलेश यादव ने समाजवादी सरकार के कामों को योगी सरकार के नाम पर परोसने का आरोप लगाया है। अखिलेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे और सैमसंग की फैक्ट्री की सोच उन की सरकार की थी और काम भी समाजवादी सरकार ने ही शुरू कराया था।

नोयडा की एलिवेटेड सड़क, लखनऊ मेट्रो और नोयडा की मेट्रो को केंद्र से सेफ्टी क्लिरियेसन नहीं मिलने की वजह से चलाया नहीं जा सका था। अब सरकार इस का उद्घाटन कर श्रेय लेने की कोशिश कर रही है।