कर्नाटक: बीजेपी-कांग्रेस ने एक-दूसरे पर लगाया विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप

कर्नाटक में कांग्रेस और भाजपा ने एक दूसरे पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया। कांग्रेस नेता और कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा कि भाजपा सरकार गिराने के लिए ऑपरेशन लोटस चला रही है।

नई दिल्ली: कर्नाटक में कांग्रेस और भाजपा ने एक दूसरे पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया। कांग्रेस नेता और कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा कि भाजपा सरकार गिराने के लिए ऑपरेशन लोटस चला रही है। कांग्रेस के तीन विधायक भाजपा नेताओं के साथ मुंबई में हैं। उधर, भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा अपने विधायकों के साथ दिल्ली पहुंच गए हैं। उनका आरोप है कि कांग्रेस भाजपा के विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है।

ये भी पढ़ें…सुब्रमण्यम स्वामी का आरोप, भ्रष्टाचार में शामिल है RBI के गवर्नर

वहीं मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा, ”वे मुझे बताकर गए हैं। चिंता की कोई बात नहीं है। हमारा कोई भी विधायक पाला नहीं बदलेगा। सभी तीन विधायक लगातार मेरे संपर्क में हैं। वे लोग मुझे बताने के बाद ही मुंबई गए हैं। मेरी सरकार को कोई खतरा नहीं है। मुझे पता है कि भाजपा किसके संपर्क में हैं और वे क्या ऑफर कर रहे हैं। मैं इससे निपट लूंगा। मीडिया को इसकी चिंता नहीं करनी चाहिए।”

गौरतलब है कि कांग्रेस-जदएस के 13 विधायक बेंगलुरु से गायब हैं, हालांकि मुख्यमंत्री कुमारास्वामी दावा कर रहे हैं कि सरकार को कोई खतरा नहीं हैं और वह उनके संपर्क में हैं, लेकिन कांग्रेस के अंदर बेचैनी है। खासतौर से जिस तरह भाजपा के विधायक दिल्ली में डटे हैं उससे परेशानी ज्यादा है।

कर्नाटक भाजपा की प्रभावी नेता शोभा करांदलजे ने बताया कि उनसे बागी किसी भी विधायक ने संपर्क नहीं किया है। यह सरकार की परेशानी है और भाजपा को घसीटने की कोशिश नहीं होनी चाहिए। बजाय इसके भाजपा चिंतित है कि कहीं उनके विधायकों को तोड़ने की कोशिश न हो।

दरअसल कर्नाटक में कांग्रेस और जदएस ने मिलकर सरकार को बना लिया था लेकिन उनके पास बड़ा बहुमत नहीं था। ऐसे में अगर 13 विधायक इस्तीफा दे दें तो परेशानी बढ़ जाएगी। वैसे भी कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दरमैया सरकार से बहुत खुश नहीं माने जाते हैं।

ये भी पढ़ें…मुझे कर्नाटक की छह करोड़ जनता से ज्यादा कांग्रेस की चिंता- एचडी कुमार स्वामी