नगर विकास मंत्री का औचक निरीक्षण, खुली नगर निगम की पोल, मेयर समेत नगर आयुक्त भी मिले नदारद

0
61
1 of 4

वाराणसी : योगी के राज में सभी विभाग के अधिकारियों को समय से ड्यूटी पर पहुंचने का लगातार आदेश दिया जा रहा है। लेकिन उसके बावजूद कर्मचारी और अधिकारी है कि अपनी लेट लतीफी की आदत छोड़ने को तैयार नहीं है। अधिकारियों संग समीक्षा बैठक करने पहुंचे नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने शनिवार (15 अप्रैल) को वाराणसी नगर निगम में औचक निरीक्षण कर अधिकारियों को चौका दिया। वहां एक दर्जन से ज्यादा अधिकारी ड्यूटी से नदारद मिले।

अधिकारियों की लगाई जमकर क्लास
बता दें कि सुरेश खन्ना को शनिवार, सुबह 10.30 बजे से सर्किट हाउस में अधिकारियों की एक बैठक होनी थी। मगर बैठक होने से पहले ही सुरेश खन्ना अचानक नगर निगम पहुंच गए। खन्ना ने अधिकारियों की अटेंडेंस रजिस्टर चेक की जिसमें दर्जन भर से ज्यादा अधिकारी ड्यूटी से नदारद मिले। साथ ही कुछ फर्जी हस्ताक्षर की भी सुरेश खन्ना ने पड़ताल की। इस पर नगर आयुक्त की सभी अधिकारियों के सामने जमकर क्लास लगाई।

मेयर और नगर आयुक्त भी थे अनुपस्थित
हालांकि, जब मंत्री नगर निगम पहुंचे तो वहां शहर के मेयर राम गोपाल मोहले और नगर आयुक्त भी नहीं मौजूद थे। लेकिन वे बाद में वहा पहुंच गये थे। नगर आयुक्त हरी प्रताप शाही किसी मीटिंग में थे। जहां मंत्री को भी जाना था। यहीं नहीं शहर में सफाई का जिम्मा उठाने वाली नगर निगम के दफ्तर में कई स्थानों पर गंदगी भी देखने को मिली। ये सब कुछ देख कर मंत्री जी ने सभी के सामने नगर आयुक्त की जमकर क्लास लगाई। खन्ना ने कहा कि जो अधिकारी अपने दफ्तरों से नदारद थे, उनके वेतन काटे जाएंगे। अन्य के खिलाफ कड़ी कार्यवाई की जाएगी।

आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज…

1 of 4