गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चार नवम्बर की शाम साढ़े चार बजे ​हरिद्वार से गोरखपुर आ रहे हैं। वह अगले पांच दिन तक शहर में रहेंगे।

बता दें कि रविवार शाम गोरखनाथ मंदिर के महंत दिग्विजयनाथ आयुर्वेदिक चिकित्सालय में आयोजित भगवान श्रीधनवंतरी के जयंती समारोह में बतौर सीएम योगी बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। कार्यक्रम में आयुर्वेदिक सेवाओं के निदेशक डा.सत्य नारायण सिंह बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद रहेंगे।

ये भी पढ़ें… धनतेरस 2018: इस दिन भूलकर भी न खरीदें ये चीजें, हो सकता है नुकसान

‘एक दीया शहीदों के नाम’ कार्यक्रम में सीएम योगी करेंगे शिरकत 

मंदिर परिसर में आयोजित भीम सरोवर में 11 हजार दीयों से शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। इसके साथ ही आज शाम 5.30 बजे गोरखनाथ मंदिर परिसर में स्थित भीम सरोवर पर एसोसिएशन ऑफ इंडिया भाई के तत्वावधान में आयोजित ‘एक दीया शहीदों के नाम’ कार्यक्रम में सीएम योगी शिरकत करेंगे। लोकगायक राकेश श्रीवास्तव ने बताया कि कार्यक्रम में देशभक्ति गीतों से शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी।

पांच नवम्बर को सुबह 10:30 बजे बरगदवां स्थित उद्यमी विष्णु अजित सरिया के प्रतिष्ठान में 1200 किलोवाट के सोलर पैनल का उदघाटन करेंगे। उसके बाद वह लखनऊ के लिए रवाना हो जाएंगे। अयोध्या में छोटी दिवाली मनाने के बाद छह नवंबर को गोरखपुर आएंगे।

ये भी पढ़ें… #Diwali 2018: अगर पढ़ाई में नहीं लगता है मन तो इस दिन करें ये जरूरी काम

दिवाली पर गोरखनाथ मंदिर में करेंगे परम्परागत पूजा

दिवाली के दिन 7 नवम्बर की शाम मुख्यमंत्री गोरखनाथ मंदिर स्थित मां लक्ष्मी मंदिर में परम्परागत पूजा करेंगे। मंदिर से जुड़े द्वारिका तिवारी ने बताया कि दिवाली के दिन बतौर गोरक्षपीठाधीश्वर पूजा अर्चना के बाद मंदिर परिसर में भंडारा आयोजित किया जाता है। भक्तगणों में 5 तरह के प्रसाद का वितरण होता है।

ये भी पढ़ें… #DIWALI 2018: आखिर क्यों इस दिन होती है उल्लू की पूजा, वजह जान हो जायेंगे हैरान

इस बार भी वनटांगियों के बीच मनाएंगे दिवाली

मुख्यमंत्री योगी हर बार की तरह इस बार भी दिवाली पर वनटांगियों के बीच जाएंगे। 7 नवम्बर को दिन में वह जंगल तिनकोनिया नंबर-3 में वनटांगियों के साथ दीपोत्सव मनाएंगे। इसके बाद गोरखनाथ मंदिर में शाम 4 से 6 बजे के बीच गणेश-लक्ष्मी पूजन होगा। मुख्यमंत्री 7 नवम्बर को मंदिर परिसर में रात्रि विश्राम करेंगे। 8 नवम्बर को लखनऊ के लिए रवाना हो जाएंगे।