नई दिल्ली: आजकल हर क्षेत्र में भारतीय देश का नाम रोशन कर रहे हैं। इस बार सौरभ नेत्रावलकर देश का नाम क्रिकेट में रोशन कर रहे हैं। भारत की अंडर-19 टीम में खेल चुके मुंबई के स्टार खिलाड़ी सौरभ अब जल्द ही अमेरिका की राष्ट्रीय टीम कप्तानी करेंगे। जी हां, भारत में अपने जलवे बिखेरने के बाद सौरभ अमेरिका में धूम मचाने को तैयार हैं।

यह भी पढ़ें: टी-20 : इंडिया बनाम वेस्ट इंडीज मैच के लिए भारत ने चुने ये 15 खिलाड़ी

बता दें, सौरभ एक स्टार परफॉर्मर हैं, जोकि लेफ्ट आर्म पेसर हैं। बता दें, सौरभ साल 2010 में अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की ओर से सर्वाधिक विकेट लेने वाले बोलर थे। सौरभ के आकड़ों की बात करें तो उन्होंने साल 2013 में रणजी ट्रोफी में डेब्यू किया। उन्होंने इस दौरान कर्नाटक के खिलाफ 3 विकेट झटके। हालांकि, ये इस टूर्नामेंट में उनका पहला और आखिरी मैच था।

यह भी पढ़ें: हैप्पी वाला बड्डे तब्बू! एक्ट्रेस में बारे में यहां जानें 7 रोचक बातें

बाद में वह पढ़ाई जारी रखने के लिए साल 2015 में अमेरिका चले गए। यहां वह कंप्यूटर इंजिनियर बनने के लिए गए थे क्योंकि सौरभ क्रिकेट में अपने भविष्य को लेकर संतुष्ट नहीं थे। इस वजह से सौरभ पटेल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी से इंजिनियरिंग में ग्रेजुएट करने के बाद अमेरिका की कोरनेल यूनिवर्सिटी में मास्टर करने लिए चले गए।

यह भी पढ़ें: दिवाली के मौके पर कुछ इस तरह इस्तेमाल करें अपने पैसे, बदल जाएगी जिंदगी

यहां अपनी मास्टर डिग्री के दौरान उन्होंने फिर क्रिकेट खेला। इस बार उन्हें फिर खेलने के मौके मिले तो वो खुद को रोक नहीं पाए। ऐसे में उन्होंने पढ़ाई और क्रिकेट दोनों को जारी रखा और नौकरी जॉइन करने के बाद भी क्रिकेट खेलना नहीं छोड़ा। इस तरह क्रिकेट खेलते-खेलते अब उन्हें अमेरिका की राष्ट्रीय टीम की कप्तानी मिल गई।