प्रोफेसर हरि शरण और हर्ष सिन्हा को रक्षा मंत्रालय देगा सर्वश्रेष्ठ पुस्तक के लिए प्रथम पुरस्कार

0
39

गोरखपुर: दीनदयाल गोरखपुर यूनिवर्सिटी के रक्षा एवं स्त्रातिजिक अध्ययन विभाग के आचार्य प्रो. हरि शरण और प्रो. हर्ष सिन्हा को रक्षा मंत्रालय द्वारा राजभाषा में सर्वश्रेष्ठ लेखन के लिए प्रथम पुरस्कार के लिए चुना गया है।
( फोटो: प्रो. हर्ष सिन्हा, बाएं और  प्रो. हरि शरण दाएं)

रक्षा मंत्रालय के उप निदेशक (राजभाषा) मोहन चन्द्र मिश्र द्वारा मंगलवार को यूनिवर्सिटी को दी गई सूचना के मुताबिक, लेखक द्वय को यह पुरस्कार उनकी पुस्तक ‘हिन्द महासागर : चुनौतियाँ एवं विकल्प’ के लिए दिया जा रहा है। मूल रूप से रक्षा विषयक राजभाषा में लिखित पुस्तकों को दिए जाने वाले इन पुरस्कारों के अंतर्गत प्रो हरि शरण एवं प्रो हर्ष सिन्हा को पचास हज़ार रुपए और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा।

पुरस्कृत पुस्तक हिन्द महासागर के भौगोलिक,आर्थिक,राजनीतिक एवं रणनीतिक आयामों पर विस्तार से विमर्श करने के अतिरिक्त भारत की नौसैनिक क्षमता और रणनीतियों पर भी प्रकाश डालती है, जो इसे अंतरराष्ट्रीय राजनीति, राजनय और सैन्य अध्येताओं के लिए उपयोगी बनाती है।

Sponsored
Loading...