लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित राज्य के अधिकांश जिले भारी बारिश की चपेट में है। कई जगहों पर तेज बारिश की वजह से नदियां उफान पर हैं। पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से रेल, सड़क एवं हवाई यातायात पूरी तरह से बाधित हुआ।

लखनऊ मौसम विभाग के निदेशक जे.पी गुप्ता ने बताया कि अगले 48 घंटों तक रुक-रुककर तेज बारिश होती रहेगी। अभी बारिश से राहत मिलने की उम्मीद नही है। मानसून पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। बारिश का दौर इस सप्ताह के अंत तक चलेगा।

गुप्ता के मुताबिक, भारी बारिश को देखते हुए पूर्वांचल के अधिकांश जिलों में चेतावनी जारी की गई है और अधिकारियों को किसी भी स्थिति से सतर्क रहने को कहा गया है।

मौसम विभाग के अनुसार, सोमवार को लखनऊ का न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेलिसयस दर्ज किया गया।

लखनऊ के अतिरिक्त सोमवार को बनारस का न्यूनतम तापमान 20 डिग्री, कानपुर का 22 डिग्री, इलाहाबाद का 23 डिग्री, झांसी का 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

इस बीच सूबे में पिछले कई दिनों से हो रही भारी बाशि को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में बाढ़ की स्थिति की समीक्षा की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकाारियों को साफतौर पर निर्देश दिया कि संवेदनशील जगहों पर बाढ़ की चौकियां स्थापित की जाएं और तटबंधों में आई दरारों को जल्द से जल्द भरने का काम किया जाए।

–आईएएनएस