मेरठ: मेरठ की चौधरी चरण सिंह जिला कारागार में भैया दूज के पर्व पर बहनों के लिए विशेष इंतजाम किए गए। भाइयों से बहनों की मिलाई आम दिनों की अपेक्षा साढे 4 घंटे पहले शुरू करा दी गई। इस दौरान पुरुषों की मिलाई पर प्रतिबंध रहा। जेल में सिर्फ बहनों की ही एंट्री हो सकी। इसके अलावा जेल के बाहर और अंदर बहनों के लिए शीतल जल की व्यवस्था की गई।

यह भी पढ़ें ……कैदी आत्महत्या: परिवार ने रोड जाम कर किया प्रदर्शन, जेल प्रशासन पर लगाया आरोप

चौधरी चरण सिंह जिला कारागार मेरठ के जेलर राजेंद्र सिंह ने न्यूजट्रैक को बताया की आमतौर पर जेल में कैदियों से मुलाकात सुबह 11 बजे शुरू होती है, लेकिन भैया दूज पर बहनों की सुविधा को देखते हुए मुलाकात सुबह 7:30 बजे से शुरू करा दी गई थी। इसके अलावा किसी भी कैदी से सप्ताह में सिर्फ तीन मुलाकात हो सकती हैं। जिनकी यह मुलाकात भी पूरी हो चुकी हैं, भैया दूज पर उन बहनों को भी जेल में मिलने पर छूट दी गई।

यह भी पढ़ें ……कैदियों की कमाई देने के लिए जेल प्रशासन ढूंढ रहा पीड़ित परिवारों का पता, प्रक्रिया शुरु2018/

जेलर के अनुसार बहनों के लिए मुलाकात का समय तीन शिफ्टों में निर्धारित किया गया है। पहली शिफ्ट में सुबह 7:30 से दोपहर 3 बजे मुलाकात कराई जा रही है। इस अवधि में सिर्फ उन महिलाओं की मिलाई कराई गई जिनके भाई जेल में बंद हैं। इस दौरान पुरुषों की एंट्री नहीं हो सकी।

यह भी पढ़ें ……यहां 22 कैदियों में मिला HIV पॉजिटिव, जेल प्रशासन व कैदी सकते में

दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 से शाम 4 बजे की होगी,जिसमें उन पुरुषों को जेल में मिलाई की सुविधा दी गई जिनकी बहनें जेल में बंद हैं। तीसरी और आखरी शिफ्ट शाम 4 से 5 बजे की होगी। इसमें उन बहन और भाइयों की मुलाकात कराई गई जो दोनों ही जेल में बंद हैं।