लखनऊ: सपा मुखिया अखिलेश यादव राजधानी में होने जा रहे इंटरनेशनल क्रिकेट मैच की क्रेडिट खुद को दे रहे हैं। उनका तर्क है कि जिस स्टेडियम में यह मैच हो रहा है। वह उनकी ही सरकार में बना है।  रविवार को एक बयान जारी कर सपा की तरफ से बताया गया कि सपा मुखिया अखिलेश यादव के मुख्यमंत्रित्व काल में राजधानी में बने इकाना इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में लखनऊवासियों का 24 वर्षों से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबला देखने का इंतजार समाप्त हो रहा है। सन् 1994 के बाद लखनऊ में 06 नवम्बर 2018 को इंटरनेशनल मैच होने जा रहा है। यहां हजारों दर्शक भारत बनाम वेस्टइण्डीज का रोमांचक मैच देखेंगे।

ये भी देखें: इस दीपावली PM मोदी की शुभकामनाएं और स्वदेशी संदेश आया है

ये भी देखें: सीएम योगी ने कहा—मैंने इलाहाबाद का नाम बदल दिया, 24 घंटे में बूचड़खाने बंद हुए

बीजेपी नहीं स्‍वीकार रही सच्‍चाई

पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी के मुताबिक भाजपा की सरकार को ही यह स्वीकार करने में परेशानी है। क्योंकि उसके पास अपना बताने के लिए कोई उपलब्धि नहीं है। लखनऊ में जब हजारों की भीड़ मैच देखने आएगी तो वह यह भी देखेगी कि अखिलेश यादव ने प्रदेश की प्रगति में कितने मील के पत्थर स्थापित किए हैं। लोग इस बात के लिए भी कृतज्ञता ज्ञापित करेंगे कि अखिलेश यादव की ही बदौलत आज उन्हें लखनऊ में 24 वर्षों बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच का आनन्द लेने का सुअवसर मिला है।