नहीं है ये किसी VIP पर्सन की वेडिंग कार्ड, फिर जानिए क्यों खास है ये शादी का कार्ड

जयपुर: कोई भी शादी बिना निमंत्रण कार्ड के नहीं होती है। हाल ही  एक ऐसा ही निमंत्रण कार्ड वायरल हुआ है जो अनोखा है। ये कार्ड  गुजरात  के परिवार ने दिया है यहां जो शादी का आमंत्रण कार्ड सामने आया है। यह सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। दरअसल, गुजरात के भावनगर के एक नव विवाहित जोड़े ने अपनी शादी के लिए छपने वाले आमंत्रण कार्ड को अनोखे तरीके से बनाया है। साथ ही इस आमंत्रण कार्ड से समाज और देश में मैसेज देने की कोशिश की है कि आधारकार्ड जैसी सुविधा से जुड़ना क्यों जरुरी है और इसके क्या फायदे हैं। दूल्हे नीलेश मकवाणा ने इस बारे में बताया कि जीवन का आधार वैवाहिक जीवन भी होता है।

अब संसारिक मोह का त्याग कर देगी अंशु, साध्वी बनने से पहले मनाया धूमधाम से जन्मदिन

 

इसी के जरिये समाज में आधार कार्ड को लेकर जागरुकता फैलाने के लिए हमने विवाह का कार्ड ही आधार के जैसा बना दिया। दूल्हा-दुल्हन के परिवार ने निर्णय लेते हुए शादी का निमंत्रण कार्ड भारत के हर नागरिक के लिए अनिवार्य और जरुरी आधार कार्ड की थीम पर छपवाया। आधार वाले इस निमंत्रण कार्ड में आधार नंबर की जगह पर शादी की तारीख, महीना और साल सेट किया गया है. दूल्हा नीलेश दुल्हन रुत्वी के साथ परिणय सूत्र में बंधे हैं। नीलेश मकवाणा कंप्यूटर क्लास चलाते हैं।

इस नव विवाहित जोड़े का मानना है कि निमंत्रण कार्ड से आधार जैसे जरुरी दस्तावेज की लोगों को जानकारी मिली और इससे पेपर की भी बचत हुई.उन्होंने कहा कि इस आमंत्रण कार्ड से लोगो को पेपर और पेड़ो को बचाने की प्रेरणा भी मिली. इस निमंत्रण कार्ड में नव विवाहित जोड़े की फोटो के साथ शादी से संबंधित सारी जानकारियां इस छोटे से पत्र में डाली गई हैं। लोगों ने नव विवाहित जोड़े की इस पहल की जमकर तारीफ की है।