पंजाब चुनाव: AAP ने मारी पलटी, केजरीवाल बोले- मैं दिल्ली छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा

0
21
AAP ने मारी पलटी: केजरीवाल बोले- मैं दिल्ली छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा, पंजाब का CM नहीं बन सकता

चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी ने एक दिन बाद ही अपने बयान से पलटी मारी है। दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बुधवार (11 जनवरी) को पटियाला में आयोजित एक रैली में कहा कि अगर पंजाब विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी को जीत मिली तो वह दिल्ली छोड़ कर पंजाब के सीएम नहीं बनेंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब का सीएम पंजाब की धरती का ही होगा।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बयान को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है। मनीष की बात को गलत तरीके से पेश कर कुछ लोग चुनाव के मुद्दे को बदलना चाहते हैं और अपनी नाकामियों को छुपाना चाहते हैं लेकिन पंजाब में वोटर आम आदमी पार्टी को पंसद कर रहा है और वो चुनाव में ये दिखा देगा।

यह भी पढ़ें … मनीष सिसोदिया का बड़ा बयान, कहा- अरविंद केजरीवाल होंगे पंजाब में CM फेस

सिसोदिया ने कहा था- मानकर चलें पंजाब का सीएम केजरीवाल ही होंगे 
गौरतलब है कि मंगलवार (10 जनवरी) को मोहाली में प्रचार के दौरान मनीष सिसोदिया ने कहा था कि आप मानकर वोट दें कि अरविंद केजरीवाल ही पंजाब के सीएम होंगे। उनके इस बयान के बाद पंजाब और दिल्ली की राजनीति में काफी हलचल शुरू हो गई।

यह भी पढ़ें … Punjab: CM प्रकाश सिंह बादल पर फेंका जूता, चेहरे पर जाकर लगा

केजरीवाल ने क्या कहा ?
-रैली को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि उन्हें दिल्ली की जनता ने वोट देकर दिल्ली का सीएम बनाया।
-दिल्ली की जनता ने उनपर एक बार नहीं, बल्कि दो बार भरोसा  किया।
-वह दिल्ली छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे।
-वह दिल्ली के लोगों के लिए समर्पित हैं।
-अरविंद केजरीवाल ने रैली के दौरान कहा कि आप जब भी वोट डालने जाएं तो मेरा चेहरा याद रखें।
-केजरीवाल ने कटाक्ष करते हुए कहा कि पंजाब का सीएम पंजाब का ही तो होगा, पाकिस्तान या लंदन का तो नहीं होगा।
-उन्होंने कहा कि पंजाब में जो भी सीएम बनेगा, वादे पूरा करने की जिम्मेदारी मेरी है।



यह भी पढ़ें … चुनावी सर्वे: ये है उत्तराखंड और पंजाब में जनता का मूड, जानिए अबकी बार किसकी सरकार ?

पंजाब विधानसभा चुनाव कार्यक्रम

-पंजाब में विधानसभा की कुल 117 सीटों पर एक ही चरण में चुनाव होने हैं।
-अधिसूचना जारी होने की तारीख- 11 जनवरी
-नामांकन भरने की अंतिम तारीख- 18 जनवरी होगी
-नामांकन पत्रों के जांच की तारीख- 19 जनवरी
-नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख- 21 जनवरी
-मतदान की तारीख- 4 फरवरी
-मतगणना की तारीख- 11 मार्च