नहीं चढ़ेगा बच्चा चाइल्ड अब्यूज की बली, अगर उसके साथ इस तरह रहेंगे फ्रेंडली

0
15355

जयपुर: गुरूग्राम में 7 साल के बच्चे की मौत ने कई सवाल खड़ा कर दिया है। स्कूल में उस बच्चे का साथ जो हुआ वो पैरेंट्स में दहशत फैलाने के लिए काफी है। इस तरह की चाइल्ड अब्यूज की घटनाएं दिनों दिन बढ़ती जा रही हैं। इसके बारे में पैरेंट्स को पता भी नहीं चलता कि उनके बच्चों के साथ क्या हो रहा है। अगर बचपन में मासूम बच्चों के साथ कुकर्म होता है, तो वो जल्दी से बताने के जगह डरने और तनाव में जीने लगते हैं।

यह भी पढ़ें…आपकी रसोई में भी है आपकी रसोई में भी है ये चीज, जो हर बीमारी के लिए है रामबाण

गलत तरीके के स्पर्श को बच्चे प्यार और स्नेह का स्पर्श समझते हैं, वे ही स्नेह के नाम पर उन्हें अपनी हवस का शिकार बनाने लगते हैं। बच्चे अपने साथ हो रहे गलत को किसी से शेयर, बल्कि पेरेंट्स से भी शेयर नहीं करते हैं। माता-पिता को अपने बच्चों को इन चीजों के बारें में जरूर बताना चाहिए। उन्हें सही-गलत का अंतर समझाना चाहिए।

यह भी पढ़ें…बाथरूम भी डालता है आपकी समृद्धि पर असर, जानिए कैसे?

इस तरह के उपाय से आप बच्चों में निडरता के साथ आत्म-विश्वास भरकर उन्हें सुरक्षित रक सकते हैं।  अपने बच्चे से एक फ्रेंड की तरह बर्ताव जरूर रखें। ऐसा रिश्ता रखें कि उनके साथ कहीं-भी, कभी-भी कुछ घटा हो, तो वो बेधड़क अपने पैरेंट्स को बता दें। सबसे पहले तो ये जानने की कोशिश करें कि जिन लोगों से बच्चों को खतरा हो, उन्हें पहचानें और बच्चे को दूर रखें। समय रहते अपने बच्चों को जागरूक और सतर्क बनाएं। किसी के छूने का गंदा और अच्छा क्या होता है उसे अंतर बताएं। ताकि आपके बच्चे के साथ ऐसा कुछ घटे नहीं।

यह भी पढ़ें…घर में रहकर ही बिना एक्सरसाइस व डाइटिंग के ऐसे घटाएं अपना वजन

बच्चों को उनकी बॉडी प्राइवेट पार्टस के नाम बताएं और उन्हें कहें अगर कोई छुए या दिखाने के लिए बोले तो आकर  पैरेंट्स को बताएं। बच्चों के मन में डर भी होता है कि उनकी बात पर कोई यकीन नहीं करेगा और इससे उन्हें ही सजा मिलेगी तो अपने बच्चे को बताएं कुछ गलत होने पर कभी डरे नहीं। बच्चे को यह भी बताएं कि अगर कोई उनके साथ कुछ गलत करता है और कहता है कि ये बात किसी को बताना मत तो ये गलत है और इसके बारे में तुरंत बताएं।