चाय बनाने के बाद न फेंके उसकी पत्ती, जानिए इस्तेमाल की हुई चायपत्ती के फायदे

0
3717

जयपुर: भारत में सर्दी हो या गर्मी लोगों को चाय पीना हमेशा पसंद होता है। हर घर में चाय पी जाती है, थकावट दूर करने के लिए, ताजगी के लिए चाय का इस्तेमाल किया जाता है। सर्दियों में चाय का इस्तेमाल किया जाता है। देश के लगभग 99 फीसदी लोगों को चाय की आदत होती है। ठंड के मौसम में एक गर्म कप चाय का मिल जाए तो फिर उसके क्या कहने। जानते है कि चायपत्ती के फायदों के बारे में

यह भी पढ़ें…विंटर होम डेकोरेशन: सर्दियों में सजाएं ऐसे अपना घर, हर कोना दें आपको गर्माहट का अहसास

चाय बनाने के लिए चायपत्ती का इस्तेमाल किया जाता है। चाय बनाने के बाद अक्सर चायपत्ती को फेंक दिया जाता है। बची हुई चायपत्ती को फिर से पानी में उबाल लें। उसे छानकर किसी गिलास में रख लें, उस से लकड़ी के सामान को चमकाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें…किडनी के अलावा शरीर के इस अंग में भी होती है पथरी, पिएं खूब पानी

चायपत्ती में एंटी आक्सीडेंट भी होता है। अगर उस बची हुई चाय पत्ती को किसी चोट या घाव पर लगाया जा सकता हैं। ऐसा  करने से घाव जल्दी ठीक हो जाता है। चाय बनाने के बाद बची हुई चायपत्ती बर्तन साफ करने वाले पाउडर में मिला कर बर्तन साफ करंगे तो  खुद फर्क दिखाई देगा, बर्तन नए की तरह चमकने लगेंगे। घर के सारे बर्तन एकदम नए हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें…गुणवत्ता व भावनात्मक बेहतरी के लिए जरूरी है यह डांस, रिसर्च में हुआ खुलासा

इसके अलावा अगर मक्खियों से परेशान हैं तो को पानी में डालें, उस पानी से घर में पोछा लगाएं, मक्खियां भाग जाएंगे।

loading...