RSS विचारक राकेश सिन्हा, दलित नेता राम शकल समेत 4 लोग राज्यसभा के लिए मनोनीत

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्यसभा के लिए चार नए सदस्यों को मनोनीत किया हैं। जिसमें आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा, किसान नेता राम शकल, मूर्तिकार रघुनाथ माहापात्रा और क्लासिकल डांसर सोनल मानसिंह का नाम शामिल हैं।

ये है पूरा मामला

प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ 245 सदस्यीय राज्यसभा में चार सीटें खाली थीं, जो राष्ट्रपति के द्वारा मनोनीत होने थे। पिछले कुछ दिनों से तमाम चेहरों को लेकर कयास लगाए जा रहे थे लेकिन सरकार ने आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा, किसान नेता राम शकल, मूर्तिकार रघुनाथ माहापात्रा और क्लासिकल डांसर सोनस मानसिंह इन चार नामों का चुनाव कर राष्ट्रपति के पास भेजा दिया था।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी आज पूर्वांचल से खींचेंगे विकास का नया खाका, जाने क्यों खास है आजमगढ़

जिसपर कोविंद ने अपनी मुहर लगा दी है। अब केंद्र सरकार की सिफारिश पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इन सदस्यों को राज्यसभा सदस्यता के लिए मनोनीत किया है।

मनोनीत सदस्यों के बारे में

सोनल मानसिंह मशहूर नृत्यांगना हैं और पद्म विभूषण, पद्म भूषण और संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित हैं। जबकि रघुनाथ महापात्रा ओडिशा जाने-माने मूर्तिकार हैं। महापात्रा पद्मश्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित हैं। रामशकल जाने-माने किसान नेता हैं।

राकेश सिन्हा संघ के विचारक हैं और मीडिया तथा सोशल मीडिया मंचों पर भाजपा और संघ का पक्ष रखने के लिए जाने जाते हैं। राकेश सिन्हा ने संघ संस्थापक डॉ. हेडगेवार की जीवनी लिखी है जिसे भारत सरकार के प्रकाशन विभाग ने प्रकाशित किया है। उनकी ‘राजनीतिक पत्रकारिता’ नमक पुस्तक काफी लोकप्रिय हुआ है।

इन चार हस्तियों की लेंगे जगह

इस साल राज्यसभा की जो सीटें खाली हुई है वो फिल्म, खेल, सामाजिक कार्य और कानून से जुड़े हैं। यूपीए सरकार ने फिल्म से रेखा, खेल से सचिन तेंदुलकर, सामाजिक क्षेत्र से अनु आगा और कानून से के पराशरन को मनोनीत कराया था। अब इन्हीं चारों की जगह पर राष्ट्रपति ने ये नए चेहरे मनोनीत किए।