6 माह के उच्च स्तर पर, थोक महंगाई दर बढ़कर 3.59 फीसदी हुई

0
77

नई दिल्ली : थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित देश की वार्षिक महंगाई दर अक्टूबर माह में बढ़कर 3.59 फीसदी पहुंच गई। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, संशोधित आधार वर्ष 2011-12 के आधार पर थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) अक्टूबर में 3.59 फीसदी रहा, जबकि सितंबर में यह 2.60 फीसदी था।

ये भी देखें :महंगाई की मार: खुदरा महंगाई दर फीसदी 3.58, सब्जियां-अनाज हुआ महंगा

मंत्रालय ने डब्ल्यूपीआई समीक्षा में कहा, “मासिक डब्ल्यूपीआई पर आधारित मुद्रास्फीति की सालाना दर अक्टूबर में 3.59 फीसदी रही, जबकि इसके पिछले महीने यह 2.60 फीसदी और पिछले साल के अक्टूबर में 1.27 फीसदी थी।”

समीक्षा में कहा गया है, “वित्त वर्ष में अब तक क्रमिक वृद्धि के साथ मुद्रास्फीति दर 2.03 प्रतिशत आंकी गई है, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में क्रमिक वृद्धि के साथ मुद्रास्फीति दर 3.53 प्रतिशत थी।”

अगस्त में थोक मुद्रास्फीति 3.24 फीसदी थी और जुलाई में 1.88 फीसदी थी।

किस पर कितना असर 

सब्जी 36.61 प्रतिशत, अंडे, मांस तथा मछली 5.76 प्रतिशत, चीनी 5.08 प्रतिशत, फल 3.96 प्रतिशत और दूध 3.86 प्रतिशत।

SHARE
Previous articleयोगी के गढ़ में ! पुलिस को देख भागने लगे तस्कर, ट्रक पलटने से 5 गोवंशीय पशुओं की मौत
Next articleगुजरात : मुस्लिम घरों में लगे X निशान देख बढ़ रहा आक्रोश और डर

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं।

यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।