नीतीश जी, संघ के वकील मत बनिए : तेजस्वी यादव ने दी राय

0
68

पटना : बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने शहीद हुए बिहार के दो सैनिकों की अंत्येष्टि में किसी मंत्री के शामिल न होने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को नसीहत देते हुए कहा, “नीतीश जी, संघ के वकील मत बनिए। ये राजनीतिक आरोप नहीं, शहीदों के सम्मान की बात है।”

तेजस्वी ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, “बिहार के दो जांबाज सैनिक वीरगति को प्राप्त हुए। लेकिन नीतीश सरकार का एक भी मंत्री वीर जवानों को श्रद्धांजलि देने और अंतिम संस्कार में सम्मिलित नहीं हुआ। नीतीश जी, संघ के वकील मत बनिए। ये राजनीतिक आरोप नहीं, शहीदों के सम्मान की बात है।”

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी ने एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए व्यंग्य किया, “मोदी जी की नोटबंदी ने आतंकवाद की ऐसी कमर तोड़ी कि विगत एक माह में हमारे 45 बहादुर सैनिक शहीद हो चुके हैं। ऊपर से मोहन भागवत का सेना ज्ञान।”

गौरतलब है कि जनादेश को ताक पर रख सत्ता से बेदखल किए जान के बाद से तेजस्वी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगातार निशाना साध रहे हैं। नीतीश ने तेजस्वी के बयानों पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

loading...

Previous articleलखनऊ : सीएम योगी PGI के लिए निकले
Next articleमहाशिवरात्रि पूजन: प्रकृति को बनायें अपनी वेलेंटाइन- स्वामी चिदानन्द
आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।