राफेल केस: सरकार आज संसद में पेश करेगी CAG रिपोर्ट

रॉफेल डील पर सरकार और विपक्ष के बीच मचे सियासी महासंग्राम के बीच नियंत्रण एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) ने अपनी रिपोर्ट राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंप दी है। एक मीडिया रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है। रिपोर्ट के मुताबिक इस रिपोर्ट की एक प्रति सरकार को भी भेजी गई है।

नई दिल्ली: रॉफेल डील पर सरकार और विपक्ष के बीच मचे सियासी महासंग्राम के बीच नियंत्रण एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) ने अपनी रिपोर्ट राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंप दी है। एक मीडिया रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है। रिपोर्ट के मुताबिक इस रिपोर्ट की एक प्रति सरकार को भी भेजी गई है।

यह भी पढ़ें…..चौकीदार चोर नहीं प्योर है, उसका अगली बार पीएम बनना श्योर है: राजनाथ

अब सीएजी की रिपोर्ट मंगलवार को संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा में पेश की जा सकती है। सीएजी की रिपोर्ट से राफेल विमानों की कीमत से पर्दा उठ सकता है।

यह भी पढ़ें…..जमीन से जुड़े इंसान हैं ये 6 स्टार्स, अब नंबर-1 लेता एक फिल्म के 50 करोड़

दरअसल, सीएजी अपनी रिपोर्ट की एक कॉपी राष्ट्रपति के पास और दूसरी कॉपी वित्त मंत्रालय के पास भेजते हैं। बताया गया है कि सीएजी ने राफेल पर 12 चैप्टर लंबी विस्तृत रिपोर्ट तैयार की है। आपको बता दें कि कुछ हफ्ते पहले ही रक्षा मंत्रालय ने राफेल पर विस्तृत जवाब और संबंधित रिपोर्ट सीएजी को सौंपी थी, जिसमें खरीद प्रक्रिया की अहम जानकारी के साथ 36 राफेल की कीमतें भी बताई गईं थीं।

यह भी पढ़ें…..प्रियंका गांधी के सियासी एंट्री पर घमासान, पीएम के गढ़ में ‘पोस्टर वार’

संसद में सीएजी की रिपोर्ट पेश होने के बाद यह पीएसी के पास जाती है जिसका अध्यक्ष विपक्ष का नेता है जो इस रिपोर्ट की आगे की समीक्षा करता है। मौजूदा समय में मल्लिकार्जुन खड़गे विपक्ष के नेता हैं और पब्लिक अकाउंट कमेटी(पीएसी) के चेयरमैन हैं।