VALENTINE SPECIAL: इन देवी-देवताओं की शरण में जाएं, मिलेगा आपका मनचाहा प्यार

0
705

जयपुर:जीवन में कई लोग अच्छे लगते हैं, उनकी ओर आकर्षित होते हैं। उनका प्यार पाना चाहते हैं। कई बार ये संभव हो जाता है और कई बार ऐसा नहीं हो पाता। हिंदू धर्म में कई ऐसे देवी और देवता हैं, जिनकी आराधना से मनचाहा प्यार मिलता है। इसलिए सदियों से बहुत से लोग प्यार को पाने के लिए ईश्वर की भी आराधना करते रहे हैं।

मनचाहा जीवनसाथी पाने के लिए लंबे समय से इनकी पूजा होती है। खासकर लड़कियां 16 सोमवार तो सावन का सोमवार और शिवरात्रि का व्रत जरुर करती है।इससे उन्हें अच्छे मिलते है। लड़कियां इसके लिए देवताओं की पूजा करती हैं और मनौतियां मानती हैं तो लड़के देवियों की शरण में जाते हैं। इतना ही नहीं शिव के अलावा सुंदर पति या जीवनसाथी या प्यार पाने के लिए लड़कियां भगवान कृष्ण की भी पूजा करती हैं। लड़कियों तो इसके लिए सोमवार का व्रत भी रखती हैं। यहां तक की देवी पार्वती को भी प्यार की देवी माना जाता है। तो अगर आप अपने प्यार को पाना चाहते हैं तो प्यार के इन देवी-देवताओं को खुश करने में जुट जाएं।

यह पढ़ें…VALENTINE DAY: पहले 6 दिन इस अंदाज में मनाएं, ना कर बैठे कोई भूल

कामदेव काम का मतलब है गंभीर प्यार, हसरत, इच्छा और सेक्सुअलिटी। देव का अर्थ है दैवीय या स्वर्गिक।अथर्व वेद में काम को इच्छाओं के लिए कहा गया है न कि सेक्सुअल अानंद के लिए। कामदेव की तुलना अक्सर ग्रीक देवता इरोज से की जाती है। कभी उन्हें पश्चिमी देशों में प्रचलित क्यूपिड के रूप में दिखाया जाता है। कामदेव को ऐसे देवता के रूप में माना जाता है जो हमारी हसरतों, प्यार और वासना के लिए जिम्मेदार है। युवा और सुंदर कामदेव भगवान ब्रह्मा के पुत्र माने जाते हैं। उन्हें मनमदन या काम कहा जाता है।

 कृष्ण हिंदू मान्यताओं के अनुसार रास और रोमांस के देवता हैं। प्यार और वासना के लिए उनकी भी आराधना की जाती है। जो जोड़ा भगवान कृष्ण और राधा की पूजा करता है, वो जिंदगीभर एक दूसरे को कृष्ण-राधा की तरह ही प्यार करता है।

यह पढ़ें…ये HAIR STYLE लाएगा आपके VALENTINE को करीब, आजमाना न भूलें

रति वो हिंदुओं की प्यार, हसरतों, वासना और सेक्सुअल आनंद की देवी हैं. माना जाता है कि प्रजापति दक्ष की बेटी हैं।  वह भगवान कामदेव की सहायक हैं। स्त्रियां और लड़कियां अक्सर प्यार और शारीरिक संगति के लिए रति की पूजा करती हैं।

भगवान शिव ये सभी को मालूम होगा कि बड़ी संख्या में महिलाएं अच्छा जीवनसाथी पाने के लिए भगवान शिव की पूजा आराधना करती हैं. पूरे देश में शिव को इसके लिए खुश करने की परंपरा है. महाशिवरात्रि और सोमवार के दिन लड़कियां आमतौर पर व्रत रखकर वांछित पार्टनर की मनौती मांगती हैं। ये भी कहा जाता है कि सोमवार का व्रत रखने से शादी आसानी से होती है और शिव की तरह प्यार करने वाला जीवनसाथी मिलता है।

चंद्र देव चंद्र का मतलब चांद जो हमेशा से प्यार का प्रतीक रहा है। उसे लेकर न जाने प्यार के कितने रूपक गढ़े गए। कितनी ही कविताएं लिखी गईं। युगों युगों से ऐसा होता रहा है। चंद्रमा की पूजा से आपको वैसा ही प्यार मिलता है, जिसकी कामना आप कर रहे हों. वैसे चंद्रदेव को वासना और शुद्धता का देवता भी माना जाता है।आप भी अगर इन देवी देवताओं की पूजा करके इन्हें खुश करें तो मनवांछित प्यार या जीवनसाथी पा सकते हैं।