दुनिया में सबसे ज्यादा बिकते हैं 5 कंपनियों के स्मार्टफोन, 3 चाइना से

0
4664

नई दिल्ली : दुनिया में आज बहुत कम लोग होंगे, जो स्मार्टफोन का उपयोग नहीं करते होंगे। हालांकि कुछ ‘पिछड़े’ देशों में स्थिति अलग हो सकती है, लेकिन स्मार्टफोन आज दुनिया भर में लोगों की आधारभूत जरूरत बन चुकी है। अब वे दिन भी बीत चुके हैं, जब मोबाइल फोन का प्रयोग केवल कॉल सुनने/करने और एसएमएस भेजने के लिए किया जाता था।

प्रौद्योगिकी में विकास के साथ ही मोबाइल फोन अब फोन नहीं रहे, बल्कि ‘स्मार्टफोन’ बन चुके हैं। जैसा कि इसके नाम से ही जाहिर है, स्मार्टफोन काफी ‘स्मार्ट’ होते हैं, जो लोगों की दैनिक जीवन की कई जरूरतों को पूरा करते हैं, इस पर मनोरंजन के अलावा कई ऐसे एप्स उपलब्ध हैं, जो सोशल नेटवर्किंग, नई जानकारी, दुनिया भर की खबरों/सूचनाओं के अलावा हमारे सेहत की खबर रखने से लेकर कई सेवाओं को मुहैया भी कराते हैं। अब तो बेसिक फोन के मॉडल में भी इंटरनेट और कैमरा जैसी सुविधाएं मिलने लगी है।

आइए जानते हैं कि दुनिया भर में किन 10 कंपनियों का स्मार्टफोन के क्षेत्र में जलवा है

सैमसंग : इस दक्षिण कोरियाई कंपनी का स्मार्टफोन के बाजार में पुरी दुनिया में जलवा है। इसके अलावा यह दूसरी स्मार्टफोन कंपनियों को भी स्मार्टफोन के चिप और स्क्रीन की आपूर्ति करती है। सैमसंग की वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में 23.3 फीसदी हिस्सेदारी है और भारत में भी सबसे ज्यादा फोन इसी कंपनी के बिकते हैं।

कंपनी ने साल 2017 में अपने कारोबार में 1.4 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। न सिर्फ प्रीमियम खंड में, बल्कि मध्यम और बेसिक खंड में कंपनी के फोन की खूब बिक्री होती है। कंपनी के प्रमुख मॉडल में ‘एस’ सीरीज और ‘नोट’ सीरीज के फ्लैगशिप स्मार्टफोन के अलावा ‘ए’ सीरीज और ‘जे’ सीरीज के मध्यम कीमत खंड के मॉडल शामिल हैं। पिछले साल कंपनी ने कुल 7.98 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की।

एप्पल : सैमसंग के बाद पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा एप्पल के स्मार्टफोन बिकते हैं और कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 12 फीसदी है। कंपनी ने पिछले साल दुनिया भर में कुल 4.1 करोड़ आईफोन्स की बिक्री की और साल-दर-साल आधार पर 1.5 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। स्मार्टफोन ही नहीं, बल्कि एप्पल द्वारा बनाए गए सभी उत्पाद चाहे वह लैपटॉप हो, मैकबुक हो, आईपैड हो, सभी बेहतरीन होते हैं और उच्च स्तर की प्रौद्योगिकी से लैस होते हैं।

एप्पल का नया आईफोन एक्स पिछले साल नवंबर और दिसंबर में दुनिया के विभिन्न बाजारों में लांच किया गया था, जिसकी हर जगह जबरदस्त मांग है और कंपनी मांग के हिसाब से इस फोन का उत्पादन नहीं कर पा रही है। इसके कारण खरीदार इस फोन का इंतजार करते हैं।

हुआवेई : चीन की कंपनी हुआवेई की वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में 11.3 फीसदी हिस्सेदारी है। पिछले साल कंपनी ने कुल 3.85 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की। कंपनी के फ्लैगशिप स्मार्टफोन पी10 के साथ ही मध्यम खंड के स्मार्टफोन्स की खूब बिक्री होती है। कंपनी का उपब्रांड ऑनर मध्यम कीमत खंड में तेजी से आगे बढ़ रहा है।

अमेरिकी बाजार में कंपनी का प्रदर्शन अभी उतना अच्छा नहीं है, यही कारण है कि शीर्ष 10 की सूची में कंपनी तीसरे नंबर पर है। कंपनी स्मार्टफोन के अलावा कंप्यूटर, टैबलेट और ब्राडबैंड उपकरण भी बनाती है।

ओप्पो : ओप्पो स्मार्टफोन की बिक्री के मामले में दुनिया में चौथे नंबर पर है। कंपनी ने साल 2017 में दुनिया भर में कुल 2.78 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की और कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 8.1 फीसदी रही।

कंपनी ने इसके पिछले साल की तुलना में अपनी बाजार हिस्सेदारी में 1.5 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की। चीन की यह कंपनी अपने अंतर्राष्ट्रीय कारोबार का तेजी से विस्तार कर रही है, खासतौर से दक्षिणपूर्व एशिया के बाजारों में कंपनी की पैठ तेजी से बढ़ी है।

भारत में कंपनी ने तेजी से अपने नेटवर्क का विस्तार किया है और आक्रामक विज्ञापन अभियान चलाया है। यही कारण है कि हर जगह कंपनी के विज्ञापन प्रमुखता से दिखते हैं।

श्याओमी : श्याओमी का नोट 4 भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाला फोन है। वैश्विक स्तर पर कंपनी पांचवे नंबर पर है। कंपनी ने पिछले साल दुनिया भर में कुल 2.12 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की और इसकी बाजार हिस्सेदारी 6.2 फीसदी है। भारतीय बाजार पर श्याओमी प्रमुखता से ध्यान दे रही है और देश भर में अपने ऑफलाइन नेटवर्क का विस्तार कर रही है।

कंपनी ने पिछले छह महीनों में भारत में अपने सर्विस सेंटर की संख्या को दोगुना कर लिया है। कंपनी स्मार्टफोन के अलावा लैपटॉप और उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स सामानों का भी उत्पादन करती है। कंपनी की नजर अब वैश्विक ड्रोन बाजार है और इस साल वह ड्रोन के कई किफायती और प्रीमियम मॉडल लांच करने वाली है।

loading...

Previous articleईरान परमाणु समझौते की समीक्षा, अमेरिका पर भड़का रूस
Next article
आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।