दुनिया को सकारात्मक नजरिए से देखिए, जिंदगी को खुशहाल बनाइए

डॉ जे.एल.एम. कुशवाहा हमारी प्रकृति और जीवन सकारात्मक है। हम अगर दुनिया को सकारात्मक नजरिए से देखते हैं तो उसका असर भी वैसा ही दिखता...

न हो कमीज तो पांवों से पेट ढक लेंगे, गरीबी की परिभाषा दिलचस्प

लोकभाषा के बड़े कवि कालिका त्रिपाठी ने कभी रिमही में एक लघुकथा सुनाई थी। कथा कुछ ऐसी थी कि दशहरे के दिन ननद और...

खैट पर्वत के अनसुने रहस्य जहां आज भी निवास करती हैं परियां

उत्तराखंड में टिहरी का खैट पर्वत जो अभी भी लाखों की आस्था का केंद्र बना है। माना जाता है कि खैट पर्वत पर अप्सराओं का वास है और इन्हें यहां आज भी देखा जा सकता है। 

Latest News

Trending