जयपुर:जूस पीना सभी को पसंद है लेकिन बहुत कम लोग होते है जो हफ्ते के सात दिन जूस को अपनी डाइट में शामिल करते है। हफ्ते के सातों दिन अलग अलग फ्लेवर के जूस पीने से शरीर की सभी पोष्टिक तत्वों की कम को पूरा किया जा सकता है। साथ ही शरीर की रोग प्रतिरोधकता क्षमता को भी मजबूती मिलती है।

पहले दिन की शुरुआत हैल्दी डाइट से करें। टमाटर में पालक और बीटरूट डालकर जूस बनाएं। इसका सेवन करने से खून की  कमी पूरी होगी। आप नाश्ते के बाद 1 गिलास दूध पी सकते हैं।
हफ्ते के दूसरे दिन खीरा और स्ट्रॉबेरी बेस्ट है। खीरा शरीर को हाइड्रेट रखता है और स्ट्रॉबेरी एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है। यह जूस कार्डियोवैस्कुलर जैसी बीमारियों से बचाव करता है।तीसरे दिन की शुरुआत ग्रीन जूस से करें। इसके लिए पालक, सैलेरी,पार्सले के अलावा अपनी पसंद की हरी सब्जियां इसमें शामिल करें। इससे इम्यून सिस्टम तेजी से बूस्ट होना शुरू हो जाएगा।

चौथे दिन फलों को जूस में शामिल करें। फाइबर से भरपूर ब्लूबेरी और पत्तागोभी का जूस दिमाग फ्रेश रखने के साथ याद्दाशत बढ़ाने में लाभकारी है। इससे शरीर को भरपूर एनर्जी भी मिलेगी।  विटामिन्स की कमी को पूरा करने के लिए पालक और ग्रीन एप्पल का जूस लाभकारी है। इससे हड्डियां मजबूत होंगी। इसे हफ्ते के पांचवे दिन पीएं।

हफ्ते के छठे दिन गाजर और संतरे का जूस पीएं। इस जूस में विटामिन ए, सी और बीटा कैरोटीन से भरपूर मात्रा में होता है। आंखों की रोशनी बढ़ाने और प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनाने में यह जूस बहुत फायदेमंद है। सांतवे दिन अदरक-चुकंदर का जूस पीएं। एंटी-इंफ्लेमेट्री और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर यह जूस आपको मानसिक रूप से फिट रखेगा।