इस मास में ना करें शुभ काम, सोच-विचार कर ही लें निर्णय

0
164

जयपुर:हिन्दू पंचांग के अनुसार पवित्र अगहन माह समाप्त हो चुका और पौष मास शुरू हो गया है। पौष मास के बारे में कहा जाता है कि यह अशुभ होता है। इसी महीने में मलमास भी आरंभ होता है जिसे खरमास भी कहा जाता है। शास्त्रों के अनुसार ऐसी मान्यता है कि इस माह शुभ कार्य जैसे शादी, जनेऊ, गृह प्रवेश और कई अन्य बड़े अनुष्ठान नहीं करने चाहिए।

यह भी पढ़ें…सूर्य के धनु में गोचर से पड़ने वाला है आपके रिश्तों पर प्रभाव, जानिए कैसे?

नई नौकरी शुरू नहीं करनी चाहिए। कोई भी नई दुकान, कंपनी या फर्म अथवा व्यवसाय शुरू नहीं करनी चाहिए। कोई भी नई मशीनरी, कंप्यूटर, लैपटॉप या अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान नहीं खरीदनी चाहिए। साथ ही कोई भी शुभ कार्य शुरू नहीं करनी चाहिए।  इसके अतिरिक्त घर में वास्तु के संबंधित कोई भी परिवर्तन नहीं करनी चाहिए। पौष मास में गृह प्रवेश भी वर्जित माना गया है। शिक्षण कार्य से संबंधित भी नया कार्य शुरू करना भी अशुभ माना गया है।

यह भी पढ़ें…बाबरी मामला: सिब्बल के समर्थन में सभी याचिकाकर्ता, दलील से सहमत

जो व्यक्ति सरकारी नौकरी या प्राइवेट नौकरी पेशे से जुड़े हैं उनके लिए पौष मास परेशानी खड़ी कर सकता है। साथ ही सरकारी नौकरी या धंधे में रूकावट आ सकती है। किसी गलत काम में फंस सकते हैं। इसलिए पौष मास में कोई भी शुभ कार्य आरंभ नहीं करना चाहिए। साथ ही कोई निर्णय सोच-विचारकर लेना चाहिए।

 

loading...