माघ मेला: पहले स्नान में लाखों ने लगाई डुबकी, 50 लाख के घाट तक पहुंचने की उम्मीद

माघ मेले के पहले स्नान में लाखों ने लगाई आस्था की डुबकी, 50 लाख पहुंचेंगे घाट तक

इलाहाबाद: संगमनगरी में गंगा-यमुना के संगम स्थल पर गुरुवार (12 जनवरी) को लाखों श्रद्धालुओं ने पौष पूर्णिमा के अवसर पर डुबकी लगाई। इसी स्नान से माघ मेला का आगाज हो गया। दोपहर 12 बजे तक 15 लाख से अधिक लोगों ने स्नान किया। जबकि अब भी लाखों लोग विभिन्न घाटों पर डुबकी लगा रहे हैं। स्नान करने वालों की सुविधा के लिए इस बार 17 घाट बनाए गए हैं।

ये भी पढ़ें …संगम की रेत पर सजी ‘तंबुओं की नगरी’, जानें इस बार मेले में क्या है खास

माघ मेले के पहले दिन पुण्य लाभ के लिए लाखों लोग संगम के तट पर डुबकी लगाते हैं। बुधवार शाम सात बजे से ही शुभ लग्न की वजह से गुरुवार सुबह तक पांच से सात लाख लोगों ने आस्था की डुबकी लगाई थी।

-उम्मीद जताई जा रही है कि शाम तक करीब 50 लाख लोग संगम में डुबकी लगा लेंगे।
-पौष पूर्णिमा स्नान के साथ माघ मेले का शुभारंभ हुआ।
-पौष पूर्णिमा बुधवार शाम 7.20 बजे ही लग गई थी।
-लेकिन उदय तिथि की वजह से स्नान दान का क्रम तड़के चार बजे शुरू हुआ।
-स्नान के लिए कुल 17 घाट बनाए गए हैं।
-सुबह आठ बजे तक करीब चार लाख श्रद्धालुओं के स्नान का अनुमान है।
-दिन चढ़ने के साथ ही स्नानार्थी घाट पहुंचने लगे हैं।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App